Home » इंटरनेशनल » Pakistan: Historical Guru Nanak Mahal demolish by local people in Narowal
 

पाकिस्तान में ऐतिहासिक गुरुनानक महल में उपद्रवियों का हमला, तोड़-फोड़ कर उठा ले गए खिड़की-दरवाजे

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 May 2019, 14:10 IST
(dawn)

पाकिस्तान मेंं 400 साल पुराने गुरुनानक महल में उपद्रवियों ने तोड़-फोड़ कर उसे नष्ट कर दिया. आलम यह था कि उपद्रवी तोड़-फोड़ कर महल के खिड़की-दरवाजे तक चुरा ले गए. पाकिस्तान के समाचार पत्र द डॉन में यह खबर प्रकाशित हुई है. 

खबर के अनुसार, महल के कीमती सामानों को भी उपद्रवियों ने नहीं छोड़ा और चुरा ले गए. उपद्रवियों ने महल की दीवारों को भी नष्ट कर दिया. राजधानी लाहौर से करीब 100 किलोमीटर दूर नारोवाल शहर में 16 कमरों का गुरुनानक महल था.

महल में लगे खिड़की-दरवाजे काफी महंगे बताए जा रहे है. बाद में जिसे बेच दिया गया. इस चार मंजिला महल की दीवारों पर सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक की तस्वीरें बनी थीं. महल चार सौ साल पहले बनाया गया था. हर साल इस महल के दर्शन के लिए यहां लाखों की संख्या में भारत और विदेश से सिख तीर्थ यात्री आते हैं.

महल लाहौर से चार सौ किलोमीटर दूर नारौवल शहर में स्थित है. इसके हर कमरे में तीन-तीन दरवाजें लगे हैं. हर कमरे में कम से कम चार वेनिलैटर्स भी हैं. पास के ही स्थानीय व्यक्त के अनुसार, वो लोग इसे महलान कहते हैं. कुछ साल पहले कनाडा से यहां एक शिष्ठमंडल आया था. वो यहां आकर काफी खुश हुए थे. उनमें एक महिला भी थी.

इस महल की दीवारों पर सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव के अलावा हिंदू शासकों और राजकुमारों की तस्वीरें भी बनी हुई हैं. जो अब बेकार हो गई हैं. फिलहाल, महल पर किसका मालिकाना हक है और देखभाल की जिम्मेदारी किसकी है? अभी कुछ पता नहीं चल पाया है.

शर्मनाक हार के बाद कांग्रेस में इस्तीफों की झड़ी, अब झारखंड-असम के प्रदेश अध्यक्षों ने की पेशकश

बालाकोट एयरस्ट्राइक पर थल सेनाध्यक्ष विपिन रावत का बड़ा खुलासा, बोले- आतंकियों के पूरे खात्मे..

First published: 27 May 2019, 14:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी