Home » इंटरनेशनल » Pakistan involve in terrorist activities Donald trump decided to stop finaancial aid of 300 million usd
 

आतंकवाद के खिलाफ नाकाम पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए डोनाल्ड ट्रम्प ने उठाया बड़ा कदम

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 September 2018, 9:13 IST

पाकिस्तान में पनप रहे आतंकवाद को काबू करने में असफल होने के अमेरिका ने पाकिस्तान के खिलाफ बाड़ा कदम उठाने का फैसला किया है. इसके चलते अमेरिकी सेना ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 300 मिलियन डॉलर की आर्थिक मदद को रोकने का फैसला ले लिया है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पाकिस्तान को पहले भी चेतावनी दी थी कि अगर देश से अंदर पनप रहे आतंकवाद का निपटारा नहीं किया तो उसे दी जानी वाली आर्थिक सहायता रोक दी जाएगी.

इस मामले में अमेरिकी सेना ने कहा, ''जिस तरह से पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ कदम उठाने में विफल रहा है, उसे देखते हुए हमने 300 मिलियन डॉलर की आर्थिक मदद को रोकने का फैसला लिया है.''

अमेरिका के इस फैसले के बाद पाकिस्तान को कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है. अमेरिका के इस फैसले के बाद पाकिस्तान को अंतर्राष्ट्रीय मंच पर काफी नकारात्मकता झेलनी पड़ सकती है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पाकिस्तान के खिलाफ सख्त रूख अपनाते हुए कहा, ''पाकिस्तान को बिलयंस दिए लेकिन हमे इसके बदले झूठ और धोखा मिला.''

सऊदी अरब इस देश को को टापू में बदलने की सोच रहा है, जानिए हैरान करने वाली वजह

वहीं इस आर्थिक सहायता को रोकने के मामले में पेंटागन के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कोनी फॉकनर ने कहा कि पाकिस्तान को आर्थिक सहायता के रूप में दी जाने वाली इस राशि का इस्तेमाल कुछ अन्य अहम कामों के लिए करेगी.

गौरतलब है कि सेना का ये फैसला राष्ट्रपति ट्रंप के जनवरी महीने में किये गए ऐलान के बाद का फैसला माना जा रहा है जिसमें उन्होंने पाकिस्तान को आतंकवाद के मुद्दे पर असफल बताते हुए आर्थिक मदद रोकनी की बात कही थी. हालांकि सेना के इस फैसले को अभी कांग्रेस की अनुमति मिलना बाकी है.

अमेरिका ने पाकिस्तान की जमीन पर हो रहे आतंकवादी गतिविधियों में कोई भी सुधार न होने को लेकर कहा, ''पाक अपनी जमीन का इस्तेमाल आतंकी गतिविधियों के लिए होने देता है, यहां हक्कानी नेटवर्क और अफगान तालिबान सक्रिय हैं.''

पाकिस्तान ने फिर अलापा कश्मीर राग तो भारत ने पाक के नए PM को दिया करारा जवाब

First published: 2 September 2018, 9:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी