Home » इंटरनेशनल » Pakistan may be transferred ISI chief rizwan akhtar
 

भारत के दबाव में फंसा पाक आईएसआई चीफ रिजवान अख्तर की कर सकता है छुट्टी

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 October 2016, 10:46 IST
(एजेंसी)

पाकिस्तान समर्थित आतंकियों द्वारा किए गए उरी हमले के बाद प्रतिक्रिया स्वरूप भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक से पाकिस्तान दबाव में फंसता नजर आ रहा है.

पाकिस्तानी अखबार द नेशन की खबर के मुताबिक वैश्विक स्तर पर भारत की सफल कूटनीति ने पाकिस्तान की नवाज सरकार को बुरी तरह से घेर लिया है. अब पाकिस्तान सरकार आईएसआई के मुखिया रिजवान अख्तर को हटाने पर विचार कर रही है.

ऐसा माना जा रहा है कि नवाज शरीफ अब अपनी वैश्विक साख बचाने की कवायद में जुट गए हैं. पाकिस्तान से खबर आ रही है कि वहां की सबसे बड़ी गुप्तचर एजेंसी आईएसआई के प्रमुख रिजवान अख्तर को जल्द ही पद से हटाया जा सकता है.

लेफ्टिनेंट जनरल रिजवान अख्तर सितंबर 2014 में आईएसआई के चीफ बनाए गए थे. उनका कार्यकाल तीन साल का है लेकिन मौजूदा हालात में उससे पहले ही उनकी विदाई हो सकती है.

पाकिस्तान के समाचार पत्र द नेशन ने रक्षा सूत्रों के हवाले से लिखा है, "इस गुप्तचर एजेंसी में बदलाव की प्रक्रिया शुरू हो गई है, लेकिन उस बदलाव का वक्त सेना प्रमुख राहिल शरीफ पर निर्भर करेगा. शरीफ रिटायर होते हैं या उन्हें सेवा विस्तार मिलता है, क्योंकि बिना सेना प्रमुख की मर्जी के इस तरह के बदलाव संभव नहीं है."

हालांकि पाक सेना के मुख्य प्रवक्ता लेफ्टिनेंट जनरल असीम सलीम बाजवा ने आईएसआई के प्रमख रिजवान को हटाए जाने की खबरों का खंडन किया है.

वहीं पाक रक्षा सूत्रों के मुताबिक कराची के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल नवीद मुख्तार आईएसआई चीफ रिजवान अख्तर की जगह ले सकते हैं. इससे पहले रिजवान अख्तर भी कराची में अपनी सेवा दे चुके हैं.

कुछ दिनों पहले आईएसआई प्रमुख रिजवान अख्तर ने पाक सेना में सेवा विस्तार नहीं लेने की घोषणा की थी.

खबरों के अनुसार जो भी शख्स कराची और सिंध में काम कर चुका होता है वो रक्षा जरूरतों को बखूबी समझता है. इसलिए नवीद मुख्तार इस दौड़ में सबसे आगे हैं.

इन चर्चाओं से कुछ दिनों पहले रिजवान अख्तर ने भी पाक सेना में सेवा विस्तार नहीं लेने की घोषणा की थी.

उन्होंने रिटायरमेंट लेने का फैसला किया था. ऐसे में माना जा रहा है कि पाकिस्तान में जल्द ही रिजवान की जगह नए आईएसआई चीफ की नियुक्ति होगी.

गौरतलब है कि बीते दिनों पहले पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के सीएम और पीएम नवाज शरीफ के भाई शाहबाज शरीफ ने पीएम शरीफ की मौजूदगी में आईएसआई के महानिदेशक जनरल रिजवान अख्तर को सख्त चेतावनी भरे अंदाज में कहा था कि अगर आपने आतंकियों पर नकेल नहीं लगाई, तो अंतरराष्ट्रीय जगत पाकिस्तान को अलग-थलग कर देगा.

इसके बाद आईएसआई के डीजी को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नासिर जंजुआ के साथ चार सीमाई प्रांतों का दौरा करने को कहा गया था और सेना के नेतृत्व वाली एजेंसियों को आतंकियों से निपटने में राज्यों के अधिकार क्षेत्र में हस्तक्षेप नहीं करने की नसीहत दी गई थी.

First published: 8 October 2016, 10:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी