Home » इंटरनेशनल » Pakistan: People staged protest in Karachi against murder of Hindu girl Namrita Chandani
 

इस हिंदू लड़की की वजह से पाकिस्तान में मचा बवाल, लाखों की संख्या में सड़कों पर उतरे लोग

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 September 2019, 14:10 IST

पाकिस्तान में लोग इन दिनों सड़कों पर उतर आए हैं. लाखों की संख्या में ये लोग एक हिंदू लड़की के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं. पाकिस्तान के कराची में लाखों लोग हिंदू लड़की नम्रता चंदानी की हत्या के विरोध में सड़कों पर उतरे हैं. रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि नम्रता की हत्या जबरन धर्मांतरण को लेकर की गई है.

मंगलवार को नम्रता की लाश लरकाना के हॉस्टल के कमरे में मिली थी. नम्रता लरकाना के बीबी आसिफा डेंटल कॉलेज में पढ़ती थी. उसकी लाश फांसी के फंदे से लटक रही थी. वह एक सिंधी हिंदू लड़की थी. लाश मिलने के बाद उसके परिवार वालों ने हत्या की आशंका जताई थी. नम्रता घोटकी के तालुका मीरपुर मथेलो की रहने वाली थी.

 

नम्रता की लाश जब मिली थी तो उसे गले में कपड़ा बंधा हुआ था. जिस कमरे में उसकी लाश मिली थी वह कमरा अंदर से बंद था. नम्रता चंदानी की अब पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट सामने आ गई है. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में नम्रता की गर्दन पर एक बड़ा निशान मिला है. इसके अलावा उनके दाएं पैर पर भी कुछ निशान हैं. शरीर के कई हिस्सों पर भी बड़े निशान देखने को मिले हैं.

 

इस घटना के सामने आते ही पाकिस्तान में जगह-जगह प्रदर्शन होने लगा है. नम्रता के भाई ने मामले में गहन जांच की मांग की है. भाई ने अपनी बहन की हत्या का शक जताया है. सोशल मीडिया पर नम्रता के लिए 'जस्टिस फॉर नम्रता चंदानी' कैंपेन भी चलाया जा रहा है.

नम्रता के दोस्तों ने बताया कि वह बहुत ही जिंदादिल लड़की थी. घटना से पहले वह किसी भी प्रकार के तनाव में नहीं थीं. मौत के चंद घंटे पहले उन्हें कॉलेज की कैंटीन में दोस्तों के साथ गपशप करते देखा गया था. नम्रता की हत्या का शक इसलिए भी है क्योंकि उनके कमरे का दरवाजा अंदर से बंद जरूर था लेकिन खिड़की खुली हुई थी. पंखे या किसी और चीज से रस्सी बांधने का कोई सबूत नहीं मिला है यहां तक कि रस्सी भी काफी छोटी थी.

Video: जमीन पर रेंगकर LoC में घुसना चाह रहे थे पाक BAT, इंडियन आर्मी ने बम बरसाकर कर दिया ढेर

Video: दिग्विजय सिंह का बयान- मंदिर में होता है रेप, भगवा कपड़ा पहनने वाला करता है बलात्कर

First published: 18 September 2019, 14:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी