Home » इंटरनेशनल » Pakistan PM Imran Khan tells nation to pay taxes otherwise it ruined economy
 

इमरान खान ने देशवासियों को दी 6 दिन की मोहलत, अगर ऐसा नहीं किया तो बर्बाद हो जाएगा पाकिस्तान

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 June 2019, 16:11 IST

पाकिस्तान बर्बादी के कगार पर है, वह लगातार आर्थिक तंगी से जूझ रहा है. पिछले 10 सालों में पाकिस्तान का कर्ज 30 हजार अरब रुपये से ज्यादा का हो गया है. पिछले काफी दिनों से प्रधानमंत्री इमरान खान बार-बार अपने देशवासियों से एक ही अपील दोहरा रहे हैं. एक बार फिर उन्होंने देशवासियों से टैक्स एमनेस्टी स्कीम का फायदा उठाने की अपील की.

इमरान खान ने देशवासियों से अपील की कि वह टैक्स एमनेस्टी स्कीम का फायदा उठाएं और अपनी बेनामी संपत्तियों का ऐलान करें. पीएम ने इस स्कीम का लाभ उठाने के लिए एक और छूट देने का ऐलान किया. उन्होंने कहा कि अगर कोई डेडलाइन तक टैक्स का भुगतान करने में सक्षम नहीं तो कम से कम टैक्स एमनेस्टी स्कीम में रजिस्ट्रेशन ही करा लें. 

इमरान खान ने चेतावनी देते हुए कहा कि 30 जून के बाद लोगों को कोई मौका नहीं मिलेगा. 30 जून के बाद टैक्स एमनेस्टी स्कीम का लाभ उठाने के लिए समय सीमा नहीं बढ़ाई जाएगी. हालांकि इस दौरान बीच में पड़ने वाले रविवार को भी लोगों के लिए दफ्तर खुले रहेंगे.

इमरान खान ने बताया कि पाकिस्तान दुनिया में सबसे कम कर चुकाता है. इस वजह से पिछले 10 सालों में उनके देश ने बहुत सारा कर्ज लिया है. इस पर भारी-भरकम ब्याज होता है. जिसका भुगतान करने में सरकारी खजाना खाली हो रहा है.

इमरान खान ने कहा कि पाकिस्तान के लोगों को इस दलदल से निकलना होगा. उन्होंने बताया कि साठ के दशक में पाकिस्तान उभर रहा था, लेकिन टैक्स नहीं भरने के कारण और बहुत ज्यादा भ्रष्टाचार होने के कारण पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था बर्बादी के मुहाने पर आ गई है.

गौरतलब है कि पाकिस्‍तान की महंगाई दर पिछले पांच साल के सबसे उच्चतम स्तर पर है. पाकिस्तान में बच्चे खाने और दूध के लिए तड़प रहे हैं. वहां दूध का दाम 180 रुपए प्रति लीटर पहुंच गया है. वहीं सेब 400 रुपये और संतरे 360 रुपये किलो मिल रहे हैं.

पाकिस्तान में केले 150 रुपये दर्जन, मटन 1100 रुपये किलो मिल रहे हैं. प्याज के दामों में 40%, टमाटर के दाम में 19% और मूंग की दाल के दाम में 13% की वृद्धि मई महीने में हुई है. गुड़, शक्कर, मछली, मसाले, घी, चावल, आटा, तेल, चाय और गेंहू के दामों में भी 10% का इजाफा हुआ है.

बुमराह ने किया क्रीम का ऐड, ज्ञान देने चले आए युवराज सिंह, मिला ऐसा जवाब कि पड़ गया पछताना !

आपातकाल: 60 लाख लोगों की जबरन कर दी गई थी नसबंदी, 2000 से ज्यादा लोगों की चली गई थी जान

First published: 25 June 2019, 16:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी