Home » इंटरनेशनल » Pakistan Prime Minister Approves Chemical Castration Of Rapists: Report
 

पाकिस्तान में रेपिस्टों को नपुंसक बनाने वाले कानून को मंजूरी, पढ़िए पीएम इमरान खान ने क्या कहा

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 November 2020, 13:13 IST

पाकिस्तान ने बलात्कार के खिलाफ कड़ा कानून बनाने का फैसला लिया है. इमरान खान सरकार ने देश में लगातार बढ़ते यौन अपराधों पर सख्त रवैया अपनाने जा रही है. एक रिपोर्ट के अनुसार सरकार ने बलात्कारियों को दंड देने के लिए उन्हें नपुंसक बनाने का फैसला किया है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को रेपिस्टों को रासायनिक तरीके से नपुंसक बनाने (chemical castration of rapists) के कानून को मंजूरी दे दी. हालांकि इस कानून को लेकर मानवाधिकार संगठनों ने विरोध जताया है. यही नहीं इमरान खान सरकार ने यौन हमलों के मामलों की तेजी से सुनवाई संबंधी कानून को मंजूरी दे दी है.

पाक मीडिया की रिपोर्ट में कहा गया है ''पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को बलात्कारियों के रासायनिक बधियाकरण (chemical castration) और यौन उत्पीड़न के मामलों की तेजी से निगरानी के लिए एक कानून को मंजूरी दी है''. जियो टीवी ने बताया कि यह फैसला संघीय कैबिनेट की बैठक के दौरान किया गया था, जहां कानून मंत्रालय ने बलात्कार विरोधी अध्यादेश का मसौदा पेश किया था. हालांकि, इसके बारे में कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है.


रिपोर्ट में कहा गया है कि मसौदे में पुलिसिंग में महिलाओं की भूमिका, तेजी से बढ़ते बलात्कार के मामले और गवाह संरक्षण शामिल हैं. इमरान खान ने कहा कि ऐसे किसी भी अपराधी बर्दाश्त नहीं किया जायेगा. सत्तारूढ़ पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के सीनेटर फैसल जावेद खान ने ट्विटर पर कहा कि कानून जल्द ही संसद में पेश किया जाएगा.

पाकिस्तान में बलात्कार कानूनों को लेकर हालही बहुत बहस हुई है. जनवरी 2018 में लाहौर में सात साल की बच्ची के साथ बलात्कार और उसकी हत्या और हाल ही में लाहौर में मोटरवे गैंगरेप के बाद यौन उत्पीड़न को रोकने के लिए सजा की गंभीरता पर बहस छिड़ गई.

हाल ही में संसद के संयुक्त बैठक में बोलते हुए इमरान खान ने कहा था कि सरकार जल्द ही एक तीन स्तरीय कानून पेश करेगी जिसमें यौन अपराधियों का पंजीकरण शामिल है.

काबुल के 20 लाख लोगों को पानी पिलाने के लिए भारत बनाएगा शहतूत बांध

First published: 25 November 2020, 13:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी