Home » इंटरनेशनल » Pakistan Reject Indian New Map in Which POK Shown As Part oF Jammu and Kashmir
 

भारत के नए राजनीतिक नक्शे को बौखलाए पाकिस्तान ने नकारा, बताया कानूनी रूप से गलत

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 November 2019, 19:42 IST

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख अब आधिकारिक रूप से दो नए केंद्र शासित प्रदेश बन गए है. भारत सरकार ने शानिवार को भारत के दो नए बने केंद्र शासित प्रदेशों का नक्शा जारी किया है. गृह मंत्रालय ने भारत का जो नया नक्शा जारी किया है उसमें पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को भी भारत का हिस्सा दिखाया गया है. जिसके बाद पाकिस्तान एक बार फिर बौखला गया और उसने भारत सरकार के इस राजनीतिक नक्शे को कानूनी रूप से गलत बताया है.

रविवार को पाकिस्तान की सरकार ने भारत के गृह मंत्रालय द्वारा जारी किए गए नए राजनीतिक नक्शे को नकारते हुए कहा,'
'राजनीतिक नक्शे में जम्मू-कश्मीर क्षेत्र के भीतर गिलगित-बाल्टिस्तान और आजाद कश्मीर के कुछ हिस्सों को दिखाया गया है, जो कानूनी रूप से अस्थिर ,गलत, शून्य और प्रासंगिक संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों का उल्लंघन हैं.' पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने अपने एक बयान में कहा,'पाकिस्तान इन राजनीतिक मानचित्रों को खारिज करता है, जो संयुक्त राष्ट्र के नक्शे से असंगत हैं.'

इसके साथ ही पाकिस्तान ने कहा कि भारत द्वारा कोई भी कदम जम्मू और कश्मीर की 'विवादित' स्थिति को बदल नहीं सकता है, जिसे'संयुक्त राष्ट्र द्वारा मान्यता प्राप्त'है. विदेश कार्यालय ने इस दौरान एक बार फिर कहा कि पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के अनुसार आत्मनिर्णय के अपने अधिकार का प्रयोग करने के लिए जम्मू और कश्मीर के लोगों के वैध संघर्ष का समर्थन करना जारी रखेगा.

बता दें, शानिवार को भारत का जो नया नक्शा जारी किया गया है उसमें पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को जम्मू-कश्मीर केंद्र शासित के हिस्से में दिखाया गया है. इतना ही नहीं नक्शों में गिलगित-बाल्टिस्तान को लद्दाख का हिस्सा दिखाया गया है.

गौरतलब हो, 5 अगस्त को केंद्र की मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को कमजोर करते हुए जम्मू कश्मीर को दो हिस्से में बाटा था. सरकार ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख केंद्र शासित प्रदेश बनाने का निर्णय किया था. 31 अक्टूबर को अधिकारिक तौैर पर जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया गया. भारत में अब राज्यों की संख्या 28 राज्य जबकि केंद्र शासित प्रदेशों की संख्या 9 हो गई है. जम्मू कश्मीर का अपनी विधानसभा होगी, जबकि लद्दाख को केंद्र सरकार प्रशासित करेगी.

व्हाट्सएप जासूसी कांड: कांग्रेस का दावा, प्रियंका गांधी का फोन भी हुआ था हैक

First published: 3 November 2019, 19:42 IST
 
अगली कहानी