Home » इंटरनेशनल » Pakistan Supreme Court disqualifies former pm Nawaz Sharif from holding office for life after Panama Papers case
 

पाकिस्तान: नवाज़ शरीफ पर सुप्रीम कोर्ट की गिरी गाज, जिंदगी भर नहीं कर सकेंगे राजनीति

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 April 2018, 13:50 IST

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पर सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले का बड़ा असर पड़ा है. नवाज शरीफ अब जिंदगी भर राजनीति नहीं कर पाएंगे. उन पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सीधा असर पनामा पेपर केस की वजह से पड़ा है. इस फैसले के बाद पाकिस्तान की सियासत में बड़े बदलाव देखे जा सकते हैं.

पाक के सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है, "अगर किसी शख्स को संविधान की धारा 62 (1)(एफ) के तहत अयोग्य करार दिया गया है तो वह शख्स आजीवन अयोग्य रहेगा." पिछले साल जुलाई में नवाज शरीफ को सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की बैंच ने पनामा पेपर केस में दोषी माना था. नवाज शरीफ को साल 1990 के मनी लाड्रिंग केस में लिप्त पाया गया था. 68 साल के नवाज शरीफ को  संविधान के अनुच्छेद 62 के तहत अपनी सैलरी को असेट के तौर पर घोषित नहीं करने का दोषी पाया गया था.

पिछले साल फरवरी में पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट ने कहा था, " संविधान के अनुच्छेद 62 और 63 के तहत अयोग्य ठहराया गया कोई भी व्यक्ति राजनीतिक पार्टी का मुखिया नहीं रह सकता" इसके बाद पाक के पूर्व पीएम नवाज शरीफ को पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के अध्यक्ष से इस्तीफा देना पड़ा था.

पाकिस्तान के मीडिया रिपोट्स के मुताबिक 5 जजों की बेंच ने सर्वसम्मित से ये फैसला सुनाया. पाक सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ऑफ पाकिस्तान साकिब निसार ने आदेश से पहले कहा, "जनता को अच्छे चरित्र वाले नेताओं की जरूरत है."

First published: 13 April 2018, 13:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी