Home » इंटरनेशनल » Pathankot acquiesced masood free in pakistan : IB
 

'मसूद अज़हर पाकिस्तान में आज़ाद घूम रहा है'

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 January 2016, 13:08 IST

भारत में वांछित आतंकी अजहर मसूद को पाकिस्तान सरकार ने न तो हिरासत में लिया है और न ही उसे नजरबंद किया गया है. समाचार एजेंसी पीटीआई को ये सूचना भारतीय इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) के सूत्र ने दी.

एजेंसी के अऩुसार आईबी ने अपने इनपुट के आधार पर कहा है कि जैश-ए-मोहम्‍मद प्रमुख मसूद अजहर पाकिस्‍तान में आजाद घूम रहा है.

भारत का दावा है कि पठानकोट हमले में शामिल सभी आतंकी पाकिस्तान से आए थे और उनका संबंध आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से था.

पढ़ें: पठानकोट हमला: जैश-ए-मोहम्मद का चीफ मसूद अजहर हिरासत में

4 जनवरी को भारत के पठानकोट एयरबेस पर हुए हमले में सात सुरक्षाबल और सेना के जवान शहीद हुए थे, जबकि 20 से ज्यादा लोग घायल हुए थे. पठानकोट हमले में सेना की जवाबी कार्रवाई में छह आतंकवादी मारे गये थे.

इस मामले में सबसे पहले पाकिस्तान के जियो टीवी ने दावा किया था कि मसूद अजहर को हिरासत में लिया गया है. लेकिन इसके अगले दिन ही पाकिस्तान के विदेश विभाग ने जियो टीवी के दावे पर अपनी टिप्पणी में रहा था कि उसे मसूद अजहर की 'गिरफ्तारी' के बारे में कोई जानकारी नहीं है.

पढ़ें: पाक मंत्री ने माना, 'एहतियातन हिरासत' में है मसूद अजहर

इसके बाद पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के कानून मंत्री राणा सनाउल्लाह ने पाकिस्तानी अख़बार डॉन से बातचीत में कहा था कि जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मौलाना मसूद अजहर को 'एहतियातन हिरासत' में लिया गया है. हालांकि इसके साथ उन्होंने यह भी साफ कहा था कि मसूद अजहर को 'गिरफ्तार' नहीं किया गया है.

सनाउल्लाह ने अख़बार से कहा था कि , ‘हमने मौलाना अजहर और उसके साथियों को पठानकोट घटना के सिलसिले में एहतियात के तौर पर हिरासत में लिया है. बहरहाल अगर पठानकोट हमले में उसकी संलिप्तता साबित होती है तो हम उन्हें गिरफ्तार कर लेंगे.'

इसके बाद भारत और पाकिस्तान के विदेश सचिवों के बीच 15 जनवरी को प्रस्तावित बातचीत अनिश्चत काल के लिए आगे बढ़ा दी.

इसकी घोषणा करते हुए भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने मीडिया से कहा था कि दोनों देशों के सचिवों ने आपसी सहमति से वार्ता की तिथि आगे बढ़ाने का निर्णय लिया है. 

पढ़ें: भारत की पाक नीति अभी भी अनिश्चय की शिकार है

First published: 19 January 2016, 13:08 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी