Home » इंटरनेशनल » Chargesheet filed against JeM Chief Masood Azhar, JeM Dy Chief MA Rauf Asghar, Shahid Latif, launching commander & Kashif Jan, main handler
 

पठानकोट हमला: मसूद अज़हर समेत जैश के 4 आतंकियों के ख़िलाफ़ चार्जशीट दाख़िल

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 February 2017, 8:13 IST
(फाइल फोटो)

पठानकोट एयरबेस पर जनवरी 2016 में हुए आतंकी हमले के मामले में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई है.

इस मामले की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने स्पेशल एनआईए कोर्ट में मसूद अजहर समेत जैश के चार सदस्यों के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया है. इसमें जैश-ए-मोहम्मद के डिप्टी चीफ और मसूद अजहर के भाई एमए रउफ असगर का नाम भी शामिल है.

जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर पर पठानकोट एयरबेस पर हुए आतंकी हमले की साजिश रचने का आरोप है. (फाइल फोटो)

एनआईए ने पठानकोट एयरबेस पर हुए आतंकी हमले के सिलसिले में जो चार्जशीट दायर की है, उसमें मसूद अजहर और उसके भाई रउफ असगर के अलावा लॉन्चिंग कमांडर शाहिद लतीफ और मेन हैंडलर बताए जा रहे कासिफ जान को भी आरोपी बनाया है.

पठानकोट हमले की 10 बड़ी बातें

1. पठानकोट एयरबेस सामरिक दृष्टि से काफी संवेदनशील है. इस साल जनवरी में पठानकोट एयरबेस पर आतंकी हमला हुआ था. पांच दिन तक चली इस मुठभेड़ में सात जवान शहीद हो गए थे, जबकि चार आतंकियों को मार गिराया गया.

2. गृह राज्यमंत्री हंसराज अहीर ने 29 नवंबर को लोकसभा में लिखित बयान में कहा कि चार पाकिस्तानी आतंकवादी पंजाब की जनीयल सड़क से आए. रावी नदी के पास बने पुल से लगे धूसी मोड़ से भारत में दाखिल हुए और इन्होंने पठानकोट एयर बेस पर हमला बोला.

3. गृह राज्यमंत्री के मुताबिक मारे गए आतंकियों के पास से चार AK-47, 32 AK मैगज़ीन, 3 पिस्टल, 7 पिस्टल की मैगज़ीन, एक ग्रेनेड लॉन्चर और 40 हैंड ग्रेनेड मिले थे.

4. हालांकि यह जवाब केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के बयान से मेल नहीं खाता है. चार मार्च को राजनाथ सिंह ने कहा था कि चार आतंकियों के शवों के अलावा एयरबेस से कुछ जले हुए अंश भी मिले हैं जिन्हें फ़ॉरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है.

5. इसके बाद रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने भी 16 मार्च को लोकसभा में कहा था कि पठानकोट हमले में छह आतंकवादी थे.

6. दो जनवरी को हुए आतंकी हमले की जांच के लिए इसी साल 27 मार्च को पाकिस्तान से संयुक्त जांच दल (जेआईटी) पहुंचा. जेआईटी की कमान पंजाब काउंटर टेररिज्म डिपार्टमेंट के एआईजी मुहम्मद ताहिर राय ने की.

7. एयरबेस का जायजा लेने गई टीम में इंटेलिजेंस ब्यूरो के लाहौर के डिप्टी डायरेक्टर जनरल मोहम्मद अजीम अरशद, आईएसआई के लेफ्टिनेंट कर्नल तनवीर अहमद, मिलिट्री इंटेलिजेंस के लेफ्टिनेंट कर्नल इरफान मिर्जा और गुजरांवाला सीटीडी के जांच अधिकारी शाहिद तनवीर भी शामिल थे.

8. पाकिस्तानी जांच टीम के दौरे का विपक्षी दलों ने कड़ा विरोध किया था. आम आदमी पार्टी और कांग्रेस ने इस टीम में आईएसआई के तनवीर अहमद के शामिल होने पर सवाल उठाते हुए जेआईटी के दौरे को शहीदों का अपमान करार दिया था.

9. मामले की जांच कर रही एनआईए कहती रही है कि उसे सिर्फ़ चार आतंकियों के शव मिले हैं. गृह मंत्रालय ने हाल ही में एनआईए को जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर समेत तीन अन्य आतंकियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करने की इजाजत दी थी.

10. 19 दिसंबर को भारतीय एयरबेस पर हमले के तकरीबन 11 महीने के बाद एनआईए ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर समेत जैश के चार संदिग्धों के खिलाफ स्पेशल एनआईए कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की.

पाकिस्तानी जांच टीम में आईएसआई के अफसर तनवीर अहमद के शामिल होने पर काफी विवाद हुआ था.
First published: 19 December 2016, 11:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी