Home » इंटरनेशनल » Pegasus: Who is supervising 14 word leaders, including Emmanuel Macron, from the Israeli software Pegasus
 

Pegasus : इजराइली सॉफ्टवेयर पेगासस से इमैनुएल मैक्रॉन सहित 14 वर्ल्ड लीडर की हुई थी निगरानी

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 July 2021, 10:35 IST

Pegasus Project : द गार्जियन की रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन और उनके दक्षिण अफ्रीकी समकक्ष सिरिल रामफोसा 14 विश्व नेताओं की सूची में शामिल थे जिनपर पेगासस हैकिंग सॉफ़्टवेयर का उपयोग करके निगरानी की गई. पेगासस स्पाइवेयर इजरायली साइबर इंटेलिजेंस कंपनी एनएसओ ग्रुप द्वारा दुनिया भर की सरकारों को बेचा जाता है.

कंपनी का कहना है कि वह अपने सॉफ़्टवेयर को केवल सरकारों को देती है और पेगासस का उद्देश्य अपराधियों को लक्षित करना है. लेकिन एक लीक सूची जिसमें 50,000 से अधिक फोन नंबर हैं, को पेरिस स्थित मीडिया गैर-लाभकारी फॉरबिडन स्टोरीज और एमनेस्टी इंटरनेशनल द्वारा एक्सेस किया गया था, जिसने इसे 17 समाचार संगठनों के साथ साझा किया था.


गार्डियन का कहना है द गार्जियन ने बताया कि इमरान खान में 2019 में भारत द्वारा रुचि दिखाई गई थी जबकि मैक्रॉन को 2019 में मोरक्को द्वारा निगरानी के लिए एक संभावित लक्ष्य के रूप में चुना गया था. रामाफोसा को कथित तौर पर उसी वर्ष रवांडा द्वारा चुना गया था. मोरक्को के राजा मोहम्मद VI, को 2019 में निगरानी के लिए देश के सुरक्षा बलों द्वारा चुना गया था.

सरकारों के प्रमुखों के अलावा विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस एडनॉम घेब्येयियस को भी संभावित लक्ष्यों की सूची में शामिल किया गया है. उन्हें कथित तौर पर 2019 में मोरक्को द्वारा भी चुना गया था.

हालांकि पेगासस को बेचने वाले एनएसओ समूह ने कहा कि लीक हुई सूची में एक फोन नंबर की उपस्थिति का मतलब यह नहीं था कि इनके मालिकों की हैकिंग का प्रयास किया गया था. ब्रिटिश समाचार वेबसाइट के अनुसार इज़राइली कंपनी ने दावा किया कि डेटाबेस की कोई प्रासंगिकता नहीं है.

ICMR का खुलासा : देश में अब भी 40 करोड़ लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने का खतरा

 

First published: 21 July 2021, 10:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी