Home » इंटरनेशनल » pervez musharraf says pakistan intelligence isi used jaish for attacks in india
 

Pak के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने किया बड़ा खुलासा, कहा-जैश की मदद से करवाए भारत में कई हमले

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 March 2019, 8:47 IST

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने पुलवामा आतंकी हमले को अंजाम देने वाला आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद को लेकर बड़ा खुलसा किया है. परवेज मुशर्रफ ने बुधवार को कहा कि जैश एक आतंकी संगठन है. उन्होने कहा कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी जैश-ए-मोहम्मद का इस्तेमाल कर भारत में कई धमाके करवाए. इस दौरान उन्होंने संकेत दिया कि उनके देश की इंटेलिजेंस ने उनके कार्यकाल में भारत में हमलों को अंजाम देने के लिए इसका इस्तेमाल किया था.

 

पाकिस्तानी हम न्यूज के पत्रकार नदीम मलिक को दिए टेलीफोनिक इंटरव्यू में परवेज मुशर्रफ ने जैश-ए-मोहम्मद के खिलाफ की जा रही कार्रवाई का स्वागत किया और कहा कि उन्होंने कहा कि उन्होंने दिसंबर 2003 में जैश पर बैन लगाने की 2 बार कोशिश की थी. इस इंटरव्यू का वीडियो क्लिप पत्रकार नदीम मलिक ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है. 

पत्रकार नदीम ने जब उनसे पूछा कि आखिर उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान (1999-2008) तक सत्ता में रहे तो जैश पर बैन क्यों नहीं लगा सके. इस सवाल के जवाब में मुशर्रफ ने कहा कि उस समय के हालात कुछ और थे. उन्होने कहा कि मेरे पास इस सवाल का कोई खास जवाब नहीं है.  वो दौर कुछ और था तब इसमें हमारे इंटेलिजेंस वाले शामिल थे. तब भारत औऱ पाकिस्तान के बीच जैसे को तैसा वाला रवैया अपनाया जा रहा था.  उस दौर में ये सिलसिला चलता रहता था, तो उस सिलसिले में उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की तो मैंने भी उन पर कोई दवाब नहीं डाला.

उन्होंने कहा, "मैंने हमेशा कहा है कि जैश-ए-मोहम्मद एक आतंकी संगठन है और उसने ही मेरी हत्या करने की कोशिश में आत्मघाती हमला किया था. उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए. मुझे खुशी है कि सरकार उनके खिलाफ सख्त रुख अपना रही है."

परवेज मुशर्रफ ने कहा, "हमलावर ने कुछ सेकंड देर से बटन दबाया और मैंने उस समय तक पुल को पार कर चुका था." उन्होंने कहा कि जैश के खिलाफ कार्रवाई एक सही कदम है और यह कार्रवाई पहले ही की जाना चाहिए थी.

मामूम हो कि जैश आतंकी संगठन ने भारत पर कई आतंकी हमले किए हैं, जिसमें जम्मू-कश्मीर का पुलवामा हमला भी शामिल है, इस आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे.

इंडियन आर्मी ने पाकिस्तान को दी गंभीर चेतावनी, अगर अब नागरिकों को निशाना बनाया तो..

First published: 7 March 2019, 8:47 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी