Home » इंटरनेशनल » We also expect Make In India to be an important aspect of India-UK bilateral engagement: PM Modi
 

पीएम मोदी बोले- 'मेक इन इंडिया' से भारत-ब्रिटेन के रिश्तों का नया दौर शुरू होगा

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 November 2016, 10:28 IST
(एएनआई)

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने अपने तीन दिवसीय भारत दौरे के पहले दिन भारत-यूके टेक समिट में शिरकत की. कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनका स्वागत किया. इस दौरान दोनों नेताओं ने भारत और ब्रिटेन के रिश्तों को लेकर अपने विचार रखे.

ब्रिटिश पीएम थेरेसा मे ने संबोधन की शुरुआत करते हुए कहा, "जब भारत और ब्रिटेन के रिश्तों को बात होती है तो दोनों देशों में काफी क्षमताएं हैं. हमारे बीच एक खास बॉन्ड है."

ब्रिटिश अर्थव्यवस्था में भारतीय कारोबारियों के योगदान का जिक्र करते हुए मे ने कहा, "ब्रिटेन में हम आर्थिक और सामाजिक सुधार पर काम कर रहे हैं. भारतीय निवेश हमारी इकोनॉमी की विविधता में मदद कर रहा है."

'पहले दौरे के लिए भारत को चुनना सम्मान की बात'

दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने थेरेसा मे के संबोधन के बाद इंडिया-यूके टेक समिट में दोनों देशों के रिश्तों की अहमियत का जिक्र किया. पीएम मोदी ने इस दौरान कहा, "यूरोप के बाहर पहले द्विपक्षीय दौरे के लिए आपने भारत को चुना यह हमारे लिए सम्मान की बात है."

पीएम मोदी ने कहा, "यूके ने हाल के दिनों में काफी तेजी से विकास किया है. एकेडमिक अनुसंधान के साथ तकनीक के क्षेत्र में नई खोजें इसी का नतीजा हैं. वहन करने योग्य हेल्थकेयर, क्लीन एनर्जी और तकनीक ऐसे क्षेत्र हैं जहां भारत और यूके के कारोबार में क्षमताओं के साथ ही नई खोज का रास्ता खुल रहा है."

क्लीन एनर्जी रिसर्च सेंटर खुलेगा

पीएम मोदी ने कहा, "हम सौर ऊर्जा पर एक क्लीन एनर्जी रिसर्च एंड डेवलपमेंट सेंटर और एक नए एंटी माइक्रोबियल रेजिस्टेंस सेंटर की स्थापना करने पर सहमत हो गए हैं."

पीएम ने साथ ही कहा, "भारत और यूके मिलकर ऐसी रिसर्च को विकसित करते रहेंगे, जिससे दुनिया की चुनौतियों का मुकाबला किया जा सकता है. हम उम्मीद करते हैं कि मेक इन इंडिया भारत और यूके के द्विपक्षीय संबंधों में एक अहम भूमिका निभाएगा."

First published: 7 November 2016, 10:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी