Home » इंटरनेशनल » Terrorism is a global challenge, there is no boundaries: pm modi
 

पीएम मोदी: आतंकवाद ग्लोबल खतरा, इसकी कोई सीमा नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 November 2016, 17:07 IST
(एएनआई)

इजरायल के राष्ट्रपति रियूवेन रिवलिन द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूती देने के उद्देश्य से आठ दिवसीय भारत यात्रा पर हैं. इजरायल और भारत के बीच आज कई अहम मुद्दों पर समझौते हुए. इस अवसर पर पीएम मोदी और इजरायल के राष्ट्रपति रियूवेन रिवलिन ने संयुक्त बयान जारी किया.

इजरायल के राष्ट्रपति के साथ साझा बयान में पीएम मोदी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि भारत के पड़ोस में आतंकवाद पनप रहा है जो चिंता का विषय है. भारत और इजरायल दोनों मानते हैं कि आतंकवाद एक ग्लोबल खतरा है. इसकी कोई सीमा नहीं है.

आतंक के खिलाफ इजरायली राष्ट्रपति का मिला साथ

इजरायल के राष्‍ट्रपति ने भारत को आतंकवाद की लड़ाई में समर्थन देने का वादा किया. उन्‍होंने कहा कि आतंकवाद बस आतंकवाद होता है. इसके अलावा मेक इन इंडिया में भी पीएम मोदी की मदद करने का वादा किया है.

पीएम मोदी ने मंगलवार को संयुक्त बयान जारी करते हुए कहा कि आतंकवाद भारत के पड़ोस में पल रहा है. उन्होंने एक बार फिर अतंराष्‍ट्रीय समुदाय से आतंकवाद के खिलाफ कड़ा रुख अपनाने की मांग की. वहीं इजरायल ने यूनाइटेड नेशंस सिक्‍योरिटी काउंसिल (यूएनएससी) में भारत की स्‍थायी सीट का समर्थन किया.

मोदी को इजरायल दौरे का न्योता

दूसरी ओर पीएम मोदी ने कहा कि राष्‍ट्रपति रिवलिन की भारत यात्रा से दोनों देशों के संबंधों को एक नया मौका हासिल होगा. क्‍लीन एनर्जी पर इजरायल, भारत को बड़ी मदद मुहैया करा रहा है. पीएम मोदी ने भी इजरायल को जल प्रबंधन और दूसरे कई मुद्दों पर भारत का सहयोग करने के लिए इजरायल का धन्‍यवाद किया.

इजरायल के राष्ट्रपति रियूवेन रिवलिन ने पीएम मोदी को शुक्रिया कहा और उन्हें इजरायल दौरे का न्योता दिया. साझा बयान के बाद रिवलिन ने राजघाट पहुंचकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी.

पिछले 20 साल में इजराइल के किसी राष्ट्रपति की यह पहली भारत यात्रा है. राष्‍ट्रपति रिवलिन के साथ एक बड़ा बिजनेस डेलीगेशन भी भारत आया है. रिवलिन अपने इस आधिकारिक दौरे पर आगरा, करनाल, चंडीगढ़ और मुंबई का भी दौरा करेंगे.

First published: 15 November 2016, 17:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी