Home » इंटरनेशनल » pm narendra modi and president trump slams pakistan on terrorism in joint statement in us.
 

पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद पर मोदी का 'ट्रंप' कार्ड

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 June 2017, 10:54 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच सोमवार को व्हाइट हाउस में हुई मुलाकात के दौरान आतंकवाद के मुद्दे पर विस्तार से बातचीत हुई.

इस मुलाकात के बाद मोदी और ट्रंप ने संयुक्त संबोधन में पाकिस्तान को आतंकवाद पर कड़ा संदेश दिया. पीएम मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप ने पाक से यह सुनिश्चित करने को कहा कि उसकी धरती का इस्तेमाल सीमा पार आतंकी हमलों के लिए नहीं हो.

इसके साथ ही दोनों देशों ने पाकिस्तान से कहा कि वह मुंबई हमलों और पठानकोट में हुए आतंकी हमले के साजिशकर्ताओं को जल्द न्याय के कठघरे में लाए.

मोदी और ट्रंप ने अपने संयुक्त संबोधन में आतंकवाद से लड़ने और आतंकियों की शरणस्थलियों को नष्ट करने की दिशा में किए जा रहे प्रयासों को मजबूत करने का भी संकल्प लिया. 

आतंकवाद का खात्मा प्राथमिकता

मोदी ने व्हाइट हाउस में ट्रंप के साथ अपने संयुक्त संबोधन में कहा कि आतंकवाद का खात्मा हमारी शीर्ष प्राथमिकताओं में शामिल है. दोनों नेताओं के बीच बैठक के बाद जारी संयुक्त बयान में कहा गया कि दोनों पक्षों ने पाकिस्तान से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि वह अपनी धरती का इस्तेमाल अन्य देशों के खिलाफ आतंकी हमलों के लिए न होने दे.

'मुंबई-पठानकोट हमले में कार्रवाई करे पाक'

पाकिस्तान से यह भी कहा गया कि वह पाकिस्तान आधारित आतंकी समूहों की साजिश वाले 26/11 मुंबई हमलों, पठानकोट हमले और सीमा पार से अन्य आतंकी हमलों के साजिशकर्ताओं को शीघ्रता से न्याय के कठघरे में लेकर आए.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, "हमने आतंकवाद, चरमपंथ और कट्टरपंथ के बारे में बात की और हम इसके खिलाफ सहयोग करने के लिए सहमत हुए. आतंकवाद से लड़ना, आतंकियों की शरणस्थलियों को नष्ट करना हमारे सहयोग का अहम हिस्सा होगा."

वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि दोनों देश आतंकी संगठनों को और उन्हें संचालित करने वाली चरमपंथी विचारधारा को नष्ट करने के लिए संकल्पबद्ध हैं.

First published: 27 June 2017, 10:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी