Home » इंटरनेशनल » PM Narendra Modi gifted a manuscript of Quran to Iranian leader Ali Khamenei
 

पीएम मोदी ने खुमैनी को भेंट की सातवीं सदी की दुर्लभ कुरान

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 May 2016, 13:58 IST
(पीएमओ)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ईरान यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच 12 समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए हैं, जिसमें भारत द्वारा चाबहार बंदरगाह के विकास का महत्वपूर्ण समझौता भी शामिल है. व्यापारिक और रणनीतिक दृष्टि से महत्वपूर्ण चाबहार बंदरगाह के विकास के लिए भारत 50 करोड़ डॉलर भी मुहैया कराएगा.

पीएम मोदी ने अपनी ईरान की दो दिवसीय यात्रा का अंत 'खुदा हाफिज तेहरान' और गिफ्ट के तौर पर कुरान भेंट करके किया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दौरे के दूसरे दिन ईरान के सुप्रीम लीडर अयातुल्ला खुमैनी को पवित्र कुरान की सातवीं सदी की एक दुर्लभ पांडुलिपि उपहार में दी. यह कुरान कुफिक लिपि में लिखी हुई है और इसका श्रेय चौथे इस्लामी खलीफा और पहले शिया इमाम हजरत अली को दिया जाता है.

जानकारी के अनुसार कुफिक लिपि में लिखी ये पांडुलिपि संस्कृति मंत्रालय के नियंत्रणाधीन है और उत्तर प्रदेश में रामपुर रजा पुस्तकालय में रखी गई है.

रोहानी को रामायण-शायरी संग्रह गिफ्ट

वहीं पीएम मोदी ने ईरान के राष्ट्रपति हसन रोहानी को मिर्जा गालिब की फारसी में लिखी शायरी का संग्रह कुल्लीयत-ए-फारसी-ए-गालिब' भेंट किया है. 1863 में पहली बार प्रकाशित कुलियत-ए-फारसी-ए-गालिब, गालिब की 11,000 से ज्यादा शेरों का संग्रह है.

इसके अलावा उन्‍होंने सुमेर चंद की फारसी में लिखी हुई रामायण की अधिकृत प्रतिकृति भेंट की. 1715 में अनुवादित यह रामायण एक दुर्लभ पांडुलिपि है और इसमें 260 से अधिक रेखाचित्र हैं. 

इससे पहले प्रधानमंत्री ने पंचतत्र की फारसी में अनुवादित कॉपी जारी की जिसमें भारत और ईरान के बीच के सांस्कृतिक संबंधों का जिक्र किया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिन की ईरान यात्रा के बाद सोमवार देर रात नई दिल्ली लौट आए.

First published: 24 May 2016, 13:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी