Home » इंटरनेशनल » PM Narendra Modi statement over surgical strike in US
 

US में बोले मोदी- सर्जिकल स्ट्राइक ने दुनिया को दिखाई ताक़त, जवाब देना जानते हैं

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 June 2017, 9:38 IST
पीएमओ ट्विटर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अमेरिका के वर्जीनिया में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि तीन साल के उनके कार्यकाल में सरकार पर भ्रष्टाचार के एक भी दाग़ नहीं लगे हैं. भारत तेज गति से आगे बढ़ रहा है.

सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, "हम धैर्य रखते हैं और वक्त आने पर जवाब भी देना जानते हैं. हम भारत पर आंतकवाद के खतरनाक प्रभावों के बारे में दुनिया को बताने में सफल रहे."

 

पीएम ने की सुषमा स्वराज की तारीफ़ 

भारतीय समुदाय के लोगों के बीच प्रधानमंत्री ने कहा, "आप लोगों से मिलकर आनंद महसूस कर रहा हूं. मैं जब मुख्यमंत्री या प्रधानमंत्री नहीं था, तब भी अमेरिका के 30 प्रांतों का भ्रमण किया था. किसी न किसी प्रकार से आप लोगों से मिलने का मौका मिलता था."  

अमेरिका में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा, "पिछले तीन साल में विदेशों में फंसे 80 हजार भारतीयों को बचाकर देश वापस लाया गया. सरकार विदेश में भारतीयों की मदद कर रही है. पिछले तीन साल में भारत ने नई ऊंचाइयों को पार किया."

'मदद की गुहार, फौरन सक्रिय सरकार' 

पीएम ने इस दौरान कहा, "पिछले 20 साल में बड़ा बदलाव आया है. तकनीक से पारदर्शिता लाने में कामयाबी मिली है. सोशल मीडिया की ताक़त का असली इस्तेमाल विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने करके दिखाया है."

पीएम मोदी ने साथ ही कहा, "अगर किसी ने विदेश से ट्वीट करके मदद मांगी, तो विदेश मंत्री ने महज 15 मिनट में जवाब दिया और 24 घंटे के अंदर सरकार एक्शन में आ गई." पीएम मोदी के इतना कहते ही तालियों से मंच गूंज उठा.

टॉप अमेरिकी कंपनियों के CEO से अपील

बता दें कि इससे पहले प्रधानमंत्री ने अमेरिका की शीर्ष कंपनियों के प्रमुखों (सीईओ) से भारत में निवेश करने का आह्वान किया. साथ ही उन्होंने देश में अगले महीने से लागू होने जा रही जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) प्रणाली को भी कारोबार सुगमता के लिए परिवर्तन लाने वाला बताया.

अमेरिका की 20 शीर्ष कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ एक गोलमेज़ बैठक के दौरान मोदी ने रेखांकित किया कि पिछले तीन साल में एनडीए सरकार की नीतियों के चलते भारत ने सबसे ज्यादा प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) को आकर्षित किया है.

First published: 26 June 2017, 8:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी