Home » इंटरनेशनल » Pope Francis says he is ashamed by Church’s failure to address sexual abuse allegations
 

पोप फ्रांसिस बोले- यौन शोषण रोकने में चर्च की असफलता पर शर्मिंदा हूं

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 August 2018, 16:17 IST
(Reuters)

पोप फ्रांसिस ने शनिवार को कहा कि पादरियों द्वारा यौन शोषण के मामलों को रोकने के मामले में कैथोलिक चर्च की विफलता पर वह शर्मिंदा हैं. बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार पोप ने आयरलैंड की यात्रा के दौरान यह टिप्पणी की, जहां उन्होंने यौन शोषण के पीड़ितों के साथ समय बिताया.

पोप ने डबलिन कास्टल में कहा, "चर्च के सदस्यों द्वारा उनके संरक्षण और शिक्षा की जिम्मेदारी के आरोप में युवा लोगों के दुरुपयोग से आयरलैंड में होने वाले गंभीर घोटाले को स्वीकार करने में मैं असफल नहीं हो सकता." उन्होंने कहा बिशप, धार्मिक वरिष्ठ अधिकारी, पुजारी और अन्य इन प्रतिकूल अपराधों को दूर करने के लिए पर्याप्त रूप से असफल रहे हैं.

उन्होंने पादरी के सदस्यों द्वारा बच्चों के यौन शोषण को समाप्त करने की कसम खाई और कहा कि भ्रष्टाचार और दुर्व्यवहार बड़ी गंदगी है. उन्होंने कहा कि उन्होंने किसी भी कीमत पर चर्च में इस संकट को खत्म करने के लिए "अधिक प्रतिबद्धता निर्धारित की है.

प्रधानमंत्री लियो वरदकर ने पादरी द्वारा यौन शोषण मामले में जीरो टॉलरेंस की मांग की है. उन्होंने कहा "मैं पूछता हूं कि आप आयरलैंड और दुनिया भर में यह सुनिश्चित करने के लिए अपने कार्यालय और प्रभाव का उपयोग करते हैं." संयुक्त राज्य अमेरिका की ग्रैंड जूरी रिपोर्ट का जिक्र करते हुए आरोप लगाया गया कि 300 रोमन कैथोलिक पुजारियों ने दशकों से 1,000 से ज्यादा बच्चों से छेड़छाड़ की थी. आयरिश प्रधानमंत्री ने कहा, "हाल के हफ्तों में हमने कैथोलिक चर्च के लोगों द्वारा किए गए क्रूर अपराधों की सुनवाई की है.

ये भी पढ़ें : इस देश में हुई सैनिकों की भारी कमी, विदेशियों और नाबालिगों को किया जा रहा भर्ती

First published: 26 August 2018, 16:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी