Home » इंटरनेशनल » Prime Minister Modi Russia Visit Meeting with President Vladimir Putin in Sochi
 

आज रूस दौरे पर रवाना होंगे PM मोदी, राष्ट्रपति पुतिन से इन मुद्दों पर करेंगे चर्चा

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 May 2018, 16:07 IST
(File Photo)

पीएम नरेंद्र मोदी आज रूस की यात्रा पर रवाना हो रहे हैं. इस यात्रा के दौरान वह रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ कई मुद्दों पर चर्चा करेंगे. अनौपचारिक शिखर बैठक के दौरान दोनों देशों के नेता ईरान परमाणु समझौते से अमेरिका के हटते प्रभाव के साथ विभिन्न वैश्विक और क्षेत्रीय मुद्दों पर बातचीत कर सकते हैं.

सोमवार सुबह पीएम मोदी रूस के शहर सोची पहुंचेंगे. जहां दोनों नेताओं की बातचीत हो सकती है. बता दें कि भारत और रूस के शीर्ष नेताओ के बीच सालाना शिखर बैठक पिछले 18 साल से होती आ रही हैं. ये बैठकें मास्को और नई दिल्ली में आयोजित की जाती हैं.

रूस में भारत के राजदूत पंकज शरण ने पीएम मोदी के दौरे के बारे में बताया कि राष्ट्रपति पुतिन और पीएम मोदी के बीच यह खास मुलाकात है. राष्ट्रपति पुतिन के राष्ट्रपति बने अभी दो हफ्ते हुए हैं और उन्होंने कई मुद्दों पर वार्ता के लिए पीएम मोदी को रूस आने का न्योता दिया है.

उन्होंने बताया कि पुतिन की इच्छा है कि दोनों नेता भविष्य में रूस की प्राथमिकताएं, रूसी विदेश नीति और भारत-रूस संबंधों पर बातचीत करें. उन्होंने बताया कि राष्ट्रपति पुतिन की ओर से आयोजित लंच के बाद दोनों नेता स्थानीय समय के मुताबिक1 बजे वार्ता कर सकते हैं.

चीन दौरे की तर्ज पर पीएम की रूस यात्रा

बता दें कि पीएम मोदी ने हाल ही में चीन का भी अनौपचारिक दौरा किया था. इस दौरान पीएम ने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से अनौपचारिक शिखर वार्ता की थी. बता दें कि ऐसी वार्ता के बाद आमतौर पर कोई घोषणा पत्र जारी नहीं किया जाता. साथ ही बातचीत के विषय भी पहले से तय नहीं होते. दोनों नेता अपने हिसाब से चर्चा का मुद्दा चुन लेते हैं.

वहीं आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि पीएम मोदी की पुतिन के साथ ये मुलाकात चार से छह घंटे तक चल सकती है. साथ ही इस मुलाकात का कोई तय ‘एजेंडा’ नहीं है. वहीं बैठक के दौरान द्विपक्षीय मुदृदों पर सीमित चर्चा होने की संभावना जताई जा रही है.

ये मुद्दे हो सकते हैं चर्चा का विषय

एक अधिकारी के मुताबिक पीएम मोदी और रूसी राष्ट्रपति पुतिन ईरान परमाणु समझौते से अमेरिका के हटने, अफगानिस्तान व सीरिया में हालात, आतंकवाद के खतरे तथा आगामी शांगहाए सहयोग संगठन (एससीओ) व ब्रिक्स शिखर सम्मेलन बैठकों पर चर्चा कर सकते हैं. सूत्रों के मुताबिक इस अनौपचारिक शिखर वार्ता का उद्देश्य दोनों देशों की दोस्ती व विश्वास का इस्तेमाल प्रमुख वैश्विक व क्षेत्रीय मुद्दों पर समझ कायम करना है. वहीं रूसी राष्ट्रपति पीएम मोदी को सम्मान भोज भी देंगे.

ये भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ में बड़ा नक्सली हमला, IED ब्लास्ट में 6 जवान शहीद

First published: 20 May 2018, 16:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी