Home » इंटरनेशनल » Rampage during funeral procession of Qassem Soleimani in Iran many people killed
 

जनरल कासिम सुलेमानी को अंतिम विदाई देने के दौरान मची भगदड़, कई लोगों की मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 January 2020, 16:11 IST

Funeral Procession of Qassem Soleimani : अमेरिका ड्रोन हमले (Drone Attack) में मारे गए ईरान (Iran) के सैन्य कमांडर कासिम सुलेमानी (Qassem Soleimani) के जनाजे में भगदड़ मचने की खबर है. बताया जा रहा है कि इस भगदड़ में कई लोग मारे गए हैं. बता दें कि बीते जनरल सुलेमानी शुक्रवार को अमरीकी ड्रोन हमले में मारे गए थे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस भगदड़ में करीब 35 लोग मारे गए हैं.

ये हादसा उस वक्त हुआ जब कासिम सुलेमानी के जनाने में शामिल होने के लिए उनके गृह नगर केरमन बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए. बता दें कि सुलेमानी की मौत इराक में हुई थी. उसके बाद उनके शव को पहले अहवाज लाया गया. फिर तेहरान और आखिर में उनके शव को केरमन लाया गया था. जहां आज उनका अंतिम संस्कार होना है. उनके जनाजे में शामिल होने के लिए ईरान के अलग-अलग इलाकों के लोग जुुटे थे. यही नहीं इससे पहले अहवाज और तेहरान में उनके अंतिम दर्शन के लिए भारी भीड़ जुटी थी.


ईरान के सरकारी टेलिविजन ने बताया कि कुद्स फोर्स कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी को सुपुर्दे खाक करने से पहले उनके गृह नगर केरमान में निकले जुलूस में भगदड़ मचने से 35 लोगों की मौत हो गई है. वहीं समाचार एजेंसी एपी ने ईरानी टीवी के हवाले से कहा है कि इस भगदड़ में कम से कम 35 लोगों की मौत हो गई है. जबकि 48 लोग घायल हुए हैं.

खबर के मुताबिक, सुलमानी के शहर केरमन में यह भगदड़ मची. बता दें कि कासिम सुलेमानी रेवोल्यूशनरी गार्ड की विदेशी शाखा के कमांडर थे. इससे पहले तेहरान, कोम, मशहद और अहवाज में भी लोगों की भारी भीड़ सड़कों पर जुटी थी. लोग आजादी चौक पर जमा हुए हैं जहां राष्ट्रीय झंडे में लिपटे दो ताबूत रखे गए.

बताया जा रहा है कि एक ताबूत सुलेमानी का और दूसरा ताबूत उनके करीबी सहयोगी ब्रिगेडियर जनरल हुसैन पुरजाफरी का है. शीराज से अपने कमांडर को अंतिम विदा देने के लिए करमान आए लोगों में से एक का कहना है, 'हम पवित्र सुरक्षा के महान कमांडर को श्रद्धांजलि देने आए हैं. हिम्मत देहगान का कहना है, "हज कासिम (सुलेमानी) से लोग ना सिर्फ करमान या ईरान में मोहब्बत करते थे, बल्कि पूरी दुनिया में लोग उनसे मोहब्बत करते थे."

ऑस्ट्रेलिया में दस हजार ऊंटों को मारी जाएगी गोली, बुधवार से शुरु होगी प्रक्रिया

मेजर जनरल सुलेमानी की हत्या पर ईरान सख्त, डोनाल्ड ट्रंप के सिर पर रखा 8 करोड़ डॉलर का इनाम

केन्या में अमेरिकी संयुक्त सैन्य बेस पर आतंकी हमला, आतंकी संगठन अल-शबाब ने दिया अंजाम

First published: 7 January 2020, 16:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी