Home » इंटरनेशनल » Ransomware: 45000 cyber attacks carried out in 99 countries in the world
 

Ransomware: दुनिया के 99 देशों में बड़ा साइबर हमला, भारत में क्या हुआ?

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 May 2017, 11:50 IST

यूरोप सहित दुनिया के कई देशों पर बड़ा साइबर हमला हुआ है. फिरौती के लिए दुनिया के कई संगठनों पर ये साइबर हमला हुआ है. इतने बड़ पैमाने पर साइबर हमला होने के बाद पूरी दुनिया में खलबली मची हुई है. हालांकि भारत इस साइबर हमले से बाहर है.

लगभग दुनिया के आधे देशों में हुए इन साइबर हमलों के बाद एक प्रोग्राम ने हज़ारों जगहों के कंप्यूटर्स लॉक कर दिए हैं. अब पेमेंट नेटवर्क 'बिटकॉइन' के ज़रिये बड़े पैमाने पर फिरौती के संदेश इन संगठनों के पास पहुंच रहे हैं. ब्रिटेन की नेशनल हेल्थ सर्विस (एनएचएस) इससे बुरी तरह प्रभावित हुई है. बताया जा रहा है कि हजारों  मरीजों के ऑनलाइन रिकॉर्ड पहुंच के बाहर हो गए हैं.

ब्रिटेन, अमेरिका, चीन, रूस, स्पेन, इटली, वियतनाम और कई अन्य देशों में 'रैनसमवेयर' साइबर हमलों की खबर है. प्रभावित कई संगठनों ने कंप्यूटर्स के लॉक होने और फ़िरौती की मांग वाले स्क्रीनशॉट्स साझा किए हैं. इस हमले में ‘रैनसमवेयर’ नाम के वायरस का इस्तेमाल किया गया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फिरौती के यह लिए हमला किया गया है.

इस मामले में गहरी पकड़ रखने वाले अधिकतर जानकारों का मानना है कि है यह हमला अमेरिकी सुरक्षा एजेंसी के बनाए टूल्स की मदद से किया गया है. 

क्या है रैनसमवेयर?

रैनसमवेयर एक कंप्यूटर वायरस है. ये वायरस कंप्यूटर में मौजूद फ़ाइलों और वीडियो को इनक्रिप्ट कर देता है. अटैक करने के बाद पहले यह फाइल को बर्बाद करने की धमकी देता है और इसके बदले फिरौती की मांग की जाती है.

फिरौती की रकम नहीं देने पर ये आपके फाइल को बर्बाद कर देता है. इस वायरस की ख़ास बात ये है कि इसमें फिरौती चुकाने के लिए समयसीमा निर्धारित की जाती है और अगर समय पर पैसा नहीं चुकाया जाता है, तो फिरौती की रकम बढ़ जाती है.

First published: 13 May 2017, 11:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी