Home » इंटरनेशनल » Relief news for half a million Indians living in the US with H-1B visas
 

जानिए क्यों अमेरिका में रह रहे सात लाख भारतीयों की अब नहीं जाएगी नौकरी

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 January 2018, 17:54 IST

अमेरिका में काम कर रहे भारतीयों के लिए अच्छी खबर है. एक रिपोर्ट के अनुसार अमेरिकी अधिकारियों का कहना है कि ट्रंप प्रशासन ऐसे किसी भी प्रस्ताव पर विचार नहीं कर रहा है जिसमें एच-1बी वीजा रखने वालों को देश छोड़ने पर मजबूर किया जाए.

इन ख़बरों के बीच कि ट्रंप प्रशासन एच-1बी वीजा नियमों को सख्त बनाने पर विचार कर रहा है, के बीच इसे रहत भरी खबर मान सकते हैं. गौरतलब है कि इस वक़्त अमेरिका में 7,50,000 भारतीय एच-1बी वीजा के साथ रह रहे हैं.

इससे पहले रिपोर्ट में कहा गया था कि अमेरिकी प्रशासन एच-1बी वीजा धारकों की वीजा अवधि बढ़ाने के प्रावधान को समाप्त करने पर विचार कर रहा है. अधिकारियों ने कहा कि अमेरिका अपने 21वीं सदी में प्रतिस्पर्धात्मकता कानून (एसी21) की धारा 104सी की भाषा में कोई बदलाव नहीं कर रहा है।

बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के अनुसार यूएससीआईएस में मीडिया प्रमुख जोनाथन विथंगटन ने एक वक्‍तव्‍य में कहा, यदि ऐसा कुछ होता तो भी इस प्रकार के बदलाव से एच-1बी वीजा धारकों को अमेरिका नहीं छोड़ना पड़ता क्योंकि कानून की धारा 106 ए-बी के तहत इन पेशेवरों के नियोक्‍ता एक-एक साल के लिए विस्तार के लिए आग्रह कर सकते हैं।

विथंगटन ने कहा, राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के अमेरिकी खरीदो, अमेरिकियों को नौकरी दो संबंधी आदेश पर अमल के लिए एजेंसी कइ तरह के नीतिगत बदलावों को आगे बढ़ा रही है।

First published: 9 January 2018, 17:50 IST
 
अगली कहानी