Home » इंटरनेशनल » Russia did not invite India to a meeting on the situation in Afghanistan - report
 

अफगानिस्तान की स्थिति पर रूस ने बुलाई महत्वपूर्ण बैठक भारत को नहीं किया आमंत्रित- रिपोर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 August 2021, 8:51 IST

Afghanistan war : अफगानिस्तान में तेजी से विकसित हो रही स्थिति पर रूस द्वारा अगले सप्ताह बुलाई गई एक महत्वपूर्ण बैठक में भारत को आमंत्रित नहीं किया गया है, जिसमें पाकिस्तान, चीन और अमेरिका के भाग लेने की उम्मीद है. हालांकि भारत ने कहा है कि वह नियमित रूप से रूस के साथ जुड़ा हुआ है. तालिबान ने अफगानिस्तान में अपना आक्रमण लगातार जारी रखा है. बड़ी संख्या में यहां तालिबानी आतंकी मारे गए हैं. रूस ने हिंसा को रोकने और अफगान शांति प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए युद्धग्रस्त देश में सभी प्रमुख हितधारकों तक पहुंचने के प्रयास तेज कर दिए हैं.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यह बैठक 11 अगस्त को कतर में होने वाली है. रूस भी अफगानिस्तान में सुलह की प्रक्रिया के लिए शांति लाने के लिए वार्ता आयोजित करता रहा है. भारत को 'एक्सटेंडेड ट्रोइका' बैठक में आमंत्रित नहीं किए जाने के बारे में पूछे जाने पर, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि नई दिल्ली नियमित रूप से अफगानिस्तान पर मास्को के साथ बातचीत करती है. उन्होंने कहा " दोनों देश एक विशेष और विशेषाधिकार प्राप्त रणनीतिक साझेदारी साझा करते हैं. हम अफगानिस्तान पर नियमित रूप से रूस के साथ जुड़ते हैं."


पिछले महीने रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने ताशकंद में कहा था कि रूस भारत और अन्य देशों के साथ काम करना जारी रखेगा जो अफगानिस्तान की स्थिति को प्रभावित कर सकते हैं. टिप्पणियों के बाद, ऐसी अटकलें थीं कि भारत को आगामी बैठक में शामिल किया जा सकता है.

लावरोव ने मीडिया से कहा "हम एक्सटेंडेड ट्रोइका प्रारूप में अमेरिकियों के साथ-साथ अन्य सभी देशों के साथ काम करना जारी रखेंगे जो अफगानिस्तान में स्थिति को प्रभावित कर सकते हैं, जिसमें मध्य एशिया, भारत, ईरान और अमेरिका के हमारे सहयोगी शामिल हैं."

अफगानिस्तान से विदेशी सैनिकों की वापसी के बीच तालिबान का आक्रामक हमला लगातार जारी है. अब तक आतंकी संगठन के लगभग 300 सदस्य मारे गए हैं. पिछले हफ्ते विभिन्न प्रांतों में देश के सुरक्षा बलों द्वारा चलाये गए अभियानों में सैकड़ों आतंकी घायल हुए हैं.

रक्षा मंत्रालय ने कहा कि गजनी, कंधार, हेरात, फराह, जोजजान, बल्ख, समांगन, हेलमंद, तखर, कुंदुज, बगलान, काबुल और कपिसा प्रांतों में ANDSF (अफगानिस्तान राष्ट्रीय रक्षा और सुरक्षा बल) ने पिछले 24 घंटों के दौरान 254 तालिबान आतंकवादी मार गिराए और 97 घायल हो गए.

Covid-19 : बिना वैक्सीन ऑफिस आने पर इस मीडिया कंपनी ने 3 कर्मचारियों को नौकरी से निकाला

 

 

First published: 6 August 2021, 8:51 IST
 
अगली कहानी