Home » इंटरनेशनल » Russia Presidential Election: Will Vladimir Putin become the President of Russia for the fourth time?
 

रूस राष्ट्रपति चुनाव : व्लादिमीर पुतिन क्या चौथी बार रूस के राष्ट्रपति बन पाएंगे ?

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 March 2018, 17:51 IST

रूस में रविवार को राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान हो रहा है. चुनाव में पुतिन के चौथी बार जीतने की उम्मीद जताई जा रही है. समाचार एजेंसी स्पुतनिक के मुताबिक, देश के 11 विभिन्न काल क्षेत्रों के अनुसार सुबह आठ बजे से रात आठ बजे तक मतदान प्रक्रिया जारी रहेगी. देश के सुदूर पूर्वी क्षेत्र कामचातका और चुकोत्का में सबसे पहले मतदान शुरू हुआ और इसके नौ घंटे बाद मॉस्को में मतदान शुरू हुआ.

रूस के पश्चिमी क्षेत्र कलिनिनग्राद में रविवार रात को मतदान शुरू होगा. समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, पुतिन (65) ने मॉस्को के लेनिन एवेन्यू में रशियन एकेडमी ऑफ साइंसेज के मुख्यालय में बने मतदान केंद्र में मतदान किया. मतदान प्रतिशत के बारे में पूछने पर पुतिन ने संवाददाताओं को बताया कि वह किसी भी तरह के मतदान प्रतिशत से संतुष्ट होंगे, जिससे वह राष्ट्रपति बन सकें.

 

रूस में 10.89 करोड़ मतदाता मतदान के पात्र हैं, जबकि अन्य 18.7 लाख मतदाता दूसरे देशों में रहते हैं. रूस में कुल 97,000 मतदान केंद्र बनाए गए हैं, जबकि 145 देशों में 400 मतदान केंद्र हैं. हालांकि, यूक्रेन में रह रहे रूसी नागरिकों को मतदान की अनुमति नहीं होगी. क्रीमिया में रह रहे रूसी नागरिक रविवार को वोट करेंगे.

स्पुतनिक के मुताबिक, चेचन नेता रमजान कादिरोव ने भी अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया. नतीजों का ऐलान सोमवार सुबह किया जाएगा. इस दौड़ में निवर्तमान राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के अलावा सात उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं, जिनमें ऑल पीपुल्स यूनियन पार्टी के सर्गेई बाबुरिन, कम्युनिस्ट पार्टी के उम्मीदवार पावेल ग्रुदिनिन, सिविल इनिशिएटिव पार्टी के उम्मीदवार सेनिया सोबचक, कम्युनिस्ट्स ऑफ रशिया पार्टी के अध्यक्ष मैक्सिम सुरेकिन, प्रेजीडेंशियल कमिश्नर फॉर एंट्रेप्रेन्योर्स राइट्स के बोरिस तितोव, योबलोको पार्टी के सहसंस्थापक ग्रिगोरी यावलिंसकी और लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ रशिया के प्रमुख व्लादिमीर जिरिनोवस्की शामिल हैं.

केंद्रीय चुनाव आयोग (सीईसी) के मुताबिक, मॉस्को में मतादान शुरू होने के शुरुआती दो घंटों में मतदान प्रतिशत 16.55 फीसदी रहा. स्थानीय समयानुसार, देश के अधिकतर पूर्वी क्षेत्रों में दोपहर तक मतदान प्रतिशत 30.37 फीसदी रहा. सीईसी ने अपनी वेबसाइटों पर 15 डीडीओएस हमलों की बात कही है. राष्ट्रपति पुतिन चौथे कार्यकाल के लिए चुनाव मैदान में हैं। चुनाव पूर्व सर्वेक्षणों के मुताबिक, पुतिन (65) को स्पष्ट विजेता के तौर पर देखा जा रहा है.

ये भी पढ़ें : श्रीलंका से आपातकाल हटा, राष्ट्रपति मैत्रीपाल ने की घोषणा

उनकी टक्कर का कोई भी उम्मीदवार चुनाव मैदान में नहीं है। पुतिन के कट्टर विरोधी एलेक्सी नवलनी के चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध लगा हुआ है. सोवियत तानाशाह जोसेफ स्टालिन के बाद से पुतिन देश के सर्वोच्च पद पर लंबे समय तक रहने वाले शख्स हैं. इस बार की जीत के साथ वह 2024 तक राष्ट्रपति पद पर रहेंगे.

First published: 18 March 2018, 17:51 IST
 
अगली कहानी