Home » इंटरनेशनल » Satellite Images Reveal North Korea’s Hidden Missile Bases
 

ट्रंप-किम की मुलाकात का नहीं हुआ उत्तर कोरिया पर असर, सैटेलाइट तस्वीरों से ऐसे खुली पोल

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 November 2018, 17:10 IST
(Digital Globe)

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन की सिंगापुर में हुई मुलाकात के बाद ऐसा माना जा रहा था कि किम अपने सभी परमाणु कार्यक्रमों को खत्म कर अमेरिका की बात मानेगा, लेकिन हाल में मिली सैलेलाइट तस्वीरों ने किम की एक बार फिर से पोल खोलकर रख दी. ट्ंरप और किम की मुलाकात के बाद दुनियाभर में इस तरह की खबरें आईं कि किम ने अपने तानाशादी रुख को बदल दिया है. लेकिन इन तस्वीरों ने एक बार फिर से खुलासा कर दिया है कि किम सुधने वाला नहीं है.

जानकारी के मुताबिक अमेरिका से धोखेबाजी करते हुए उत्तर कोरिया 16 गुप्त ठिकानों पर अपने बलिस्टिक मिसाइल प्रोग्राम को अभी भी आगे बढ़ा रहा है. यह बात सैटलाइट तस्वीरों में सामने आई है. बता दें कि पिछले दिनों अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मीटिंग के दौरान उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने परमाणु कार्यक्रमों को निरस्त करने की बात कही थी. ऐसे में इन तस्वीरों से साबित होता है कि किम ने उत्तर कोरिया वादाखिलाफी कर रहा है.

सामने आईं इन सैटलाइट तस्वीरों से यह पता चलता है कि उत्तर कोरिया बड़े परमाणु अभियान में जुटा है. बता दें कि किम ने पहले एक बड़े लॉन्चिंग साइट को खत्म करने की बात कही थी, जिसे उसने हाल ही में तैयार किया था. लेकिन अब उसने इसे रोकते हुए करीब एक दर्जन नई साइट्स को भी डिवेलप करना शुरू कर दिया है.

Digital Globe

न्यू यॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर कोरिया एक बार फिर से परंपरागत परमाणु हथियारों का जखीरा तैयार करने में जुट गया है. उत्तर कोरिया में बलिस्टिक मिसाइलों का बेस मिलना ट्रंप के उन दावों के विपरीत है, जिसमें उन्होंने कहा था कि उनकी डिप्लोमैसी के चलते किम जोंग उन अपने सभी परमाणु कार्यक्रम निरस्त कर देंगे.

First published: 13 November 2018, 17:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी