Home » इंटरनेशनल » Saudi Arabia Billionaire Maan Al Sanea’s Assets To Be Auctioned
 

दुनिया के सबसे अमीर लोगों में शामिल ये शख्स हुआ बर्बाद, नीलाम होगी संपत्ति

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 September 2018, 17:07 IST

कब किसकी किस्मत बदल जाए ये कोई नहीं जानता. कोई गरीब से अमीर हो जाता है तो कोई करोड़पति से जमीन पर आ जाता है. ऐसा ही कुछ हुआ है दुनिया के 100 सबसे अमीर लोगों में शामिल एक शख्स का. जो अब पूरी तरह कंगाल हो चुका है और सरकार अब उसकी संपत्ति नीलाम कर कर्जा वसूलेगी.

दरअसल, सऊदी अरब में साद ग्रुप के मालिक और अरबपति कारोबारी मान अल साने दिवालिया हो गए हैं. इसलिए सऊदी अरब सरकार ने उनसे कर्जा वसूलने के लिए उनकी संपत्ति को नीलाम करने का फैसला लिया है. अगले महीने उनकी सं‍पत्ति की नीलामी होगी और कर्ज चुकाया जाएगा.

इस मामले से जुड़े सूत्रों के मुताबिक दिवालिया हो चुके साने एक समय दुनिया के 100 सबसे अमीर लोगों में शामिल थे. साल 2007 में उन्‍हें फोर्ब्‍स की दुनिया के 100 सबसे अमीर लोगों की लिस्ट में शामिल किया गया था, लेकिन 2009 में उनकी कंपनी साद ग्रुप के दिवालिया होने के चलते पिछले साल उन्‍हें हिरासत में ले लिया गया.

बता दें कि पिछले 9 साल से लेनदार साद ग्रुप से कर्ज अदायगी का केस लड़ रहे थे. यह सऊदी अरब के इतिहास का सबसे बड़ा कर्ज विवाद है. तीन जजों के ट्रिब्‍यूनल ने पिछले साल एतकान अलायंस को कर्ज विवाद निपटारे के लिए प्रॉपर्टी की नीलामी की जिम्‍मेदारी दी थी.

एतकान पांच महीने में सऊदी अरब की राजधानी रियाद और जेद्दा में नीलामी कराएगा. पहली नीलामी अक्टूबर के आखिरी में होगी. इसमें पूर्वी राज्‍य के खोबर और दम्‍मम में मौजूद आवासीय इमारतों, बिना निर्माण वाले वाणिज्यिक प्‍लॉट और फॉर्म की बोली लगाई जाएगी.

ये भी पढ़ें- फ्लोरेंस तूफान में चिड़ियाघर से निकल गए कई जहरीले सांप, सड़क पर घूमने लगे मगरमच्छ

एक सूत्र ने बताया कि यह नीलामी एक से दो बिलियन रियाल यानी लगभग 19.20 से 38 अरब रुपए तक पहुंच सकती है. लेनदार से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि प्रॉपर्टी मार्केट में मंदी के चलते नीलामी की प्रक्रिया में देरी हुई है. मार्च में एतकान ने पहले फेज में साद ग्रुप के लगभग 900 वाहन नीलाम किए थे जिनमें ट्रक, बस, गोल्‍फ कोर्ट और जेसीबी जैसे वाहन शामिल थे. सूत्रों के मुताबिक साद ग्रुप पर अभी करीब 40 से 60 अरब रियाल का कर्ज है.

First published: 17 September 2018, 17:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी