Home » इंटरनेशनल » Sri Lanka Reimposes curfew in four town after communal violence
 

श्रीलंका में हिंसा के बाद कई इलाकों में लगाया गया कर्फ्यू, मस्जिदों में तोड़फोड़

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 May 2019, 8:11 IST

श्रीलंका में पिछले महीने 21 तारीख को कई चर्च और होटलों में हुए धमाकों के बाद हालात अभी भी सामान्य नहीं हुए हैं. अब देश के कई शहरों में मुस्लिम समुदाय के प्रति लोगों में रोष व्याप्त हो गया है इसी के चलते मुस्लिम बस्तियों से हिंसा का की खबरें आ रही हैं. लोग मुसलमानों और मस्जिदों को निशाना बनाया जा रहा है. रविवार को एक फेसबुक पोस्ट से शुरु हुई हिंसा एक बार फिर से उग्र रूप लेने लगी है. हालात पर काबू पाने के लिए सरकार ने कई इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया है.

प्रशासन ने एहतयातन रात नौ से सुबह चार बजे तक कर्फ्यू लगाने के आदेश दिए हैं. जिससे माहौल को खराब होने से रोका जा सके. इससे पहले सोमवार को पूरे देश में छह घंटे कर्फ्यू लगा रहा. श्रीलंका के सेना प्रमुख महेश सेनानायक ने कहा है कि सैनिकों को कर्फ्यू का उल्लंघन करने वालों से कड़ाई से निपटा जाए. सेनानायक ने निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने वालों को देखते ही गोली मारने के आदेश दिए हैं.

फेसबुक पोस्ट से शुरु हुई हिंसा के पहले दिन प्रशासन ने उत्तर पश्चिमी क्षेत्र के चार शहरों- कुलियापिटिया, हेटिपोला, बिंगिरिया और डूमलसूरिया में कर्फ्यू लगा दिया था, लेकिन कर्फ्यू हटाने के कुछ घंटों बाद एक बार फिर से यहां कर्फ्यू लगा दिया गया. इसके बाद हिंसा रोकने के लिए पूरे उत्तर और पश्चिम प्रांत में कर्फ्यू लगा दिया गया. साथ ही सोशल मीडिया पर भी बैन लगा दिया गया है.

 

खबरों के मुताबिक कई इलाकों में मस्जिदों और मुसलमानों के व्यापारिक प्रतिष्ठानों को निशाना बनाया गया है. हालांकि इस हिंसा में किसी के मारे जाने की कोई खबर नहीं है. बताया जा रहा है कि कई इलाकों में भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने हवा गोलियां चलाईं और आंसू गैस का इस्तेमाल भी कियाश्रीलंका के प्रधानमंत्री रानिल विक्रमासिंघे ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है. उन्होंने कहा है कि ताजा हिंसा से हमलों की जांच प्रभावित हो रही है. हालात से निबटने के लिए सरकार ने रात्रि का कर्फ्यू लगा दिया है.

पाकिस्तान को अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष दे रहा है 6 बिलियन डॉलर के बेलआउट पैकेज

First published: 14 May 2019, 8:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी