Home » इंटरनेशनल » Sri Lanka serial blast in Colombo more than 129 killed and many injured
 

श्रीलंका की राजधानी कोलंबो में सीरियल ब्लास्ट, 156 लोगों की मौत, सैकड़ों घायल

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 April 2019, 13:11 IST

रविवार सुबह श्रीलंका की राजधानी कोलंबो में ईस्टर संडे के चलते खूब चहल पहल थी. सैकड़ों की तादात में लोग चर्च पहुंच रहे थे. अभी कोई पौने नौ बजे का वक्त रहा होगा कि कोलंबो से एक बुरी खबर आई. यहां एक के बाद एक 6 ब्लास्ट हुए और पूरा शहर शोक में डूब गया. लोग इधर उधर दौड़ने लगे. कोई खुद के जख्म के दर्द से कराह रहा था तो किसी को अपने के चले जाने का गम था. पूरा शहर मानों मातम मनाने लगा हो.

लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए कोलंबो पुलिस पहुंच गई सेना का जवानों को भी मौके पर भेजा गया. अलग-अलग मीडिया रिपोर्ट्स में मरने वालों की अलग-अलग संख्या बताई जा रही है. श्रीलंका की मीडिया के मुताबिक इन बम धमाकों में कम से कम 160 लोग मारे गए हैं और करीब 400 घायल हुए हैं.

खबरों के मुताबिक एक विस्फोट राजधानी कोलंबों के कोचचिकड़े में स्थित सेंट एंथोनी चर्च में हुआ जहां ईस्टर संडे के चलते चर्च में सैकड़ों लोग मौजूद थे. उसके बाद दूसरा धमाका कटाना के कटुवापिटीया चर्च में हुआ. यहां भी बड़ी संख्या में लोग प्रार्थना के लिए पहुंचे थे. उसके बाद तीसरा बम धमाका बट्टीकलाओ चर्च में हुआ और इस तरह पूरा कोलंबो दहशत में डूब गया.

 

खबरों के मुताबिक राजधानी कोलंबो के पांच सितारा होटल शंगरी-ला में भी जबरदस्त ब्लास्ट हुआ है. इसके साथ ही सिन्नमन ग्रांड और किंग्सबरी में भी धमाके की खबर है. मरने वालों में कुछ विदेशी पर्यटक भी शामिल हो सकते हैं. भारती की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी ट्वीट कर घटना की जानकारी दी और लिखा कि, "मैं कोलंबो स्थित भारतीय उच्चायुक्त के साथ लगातार संपर्क में हूं. हम परिस्थिति पर लगातार नजर बनाए हुए हैं.”

न्यूज एजेंसी एएनआई ने मरने वालों की संख्या 156 बताई है वहीं कुछ विदेशी मीडिया मरने वालों की तादात 160 से अधिक बता रहे हैंबता दें कि श्रीलंका स्थित भारतीय दूतावास ने श्रीलंका में रहने वाले भारतीय नागरिकों की मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर +94777903082 +94112422788 +94112422789 जारी किए हैं. जिनपर कॉल कर जानकारी हासिल की जा सकती है.

कार्यकर्ताओं से बोली बीजेपी उम्मीदवार संघमित्रा मौर्य, अगर कोई वोट ना डाले तो तुम खुद उसका फर्जी वोट डाल देना

First published: 21 April 2019, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी