Home » इंटरनेशनल » syria 7 year little girl Bana Alabed and-her mother writes tweets from inside war torn Aleppo syria
 

'बचने की उम्मीद नहीं, फ़िर भी हम ज़िंदा रहने के लिए लड़ रहे हैं'

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 November 2016, 17:40 IST

सीरिया में भारी बमबारी और हवाई हमले की बेहद डरावनी तस्वीर बाना और फातिमा ने ट्विटर पर दुनिया के सामने रखी है. इन दिनों 7 साल की बच्ची बाना और उनकी मां फातिमा के ट्विटर ने दुनिया को झकझोर दिया है.  

बाना और फातिमा ट्विटर पर अलेप्पो और वहां के हालात के बारे में ट्वीट कर जानकारी देती हैं. इस अकाउंट को फातिमा संभालती है और वे दोनों इसी ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करती हैं. ट्विटर पर बाना के 1 लाख 68 हजार फॉलोअर हैं. 

अलेप्पो पर लगातार की जा रही बमबारी की कई तस्वीरें और विडियो भी उन्होंने पोस्ट किए हैं.  इस सबके बीच वहां के लोगों की जिंदगी कितनी मुश्किल हो गई है, इसका अंदाजा इन ट्वीट्स से लग जाता है. उन्होंने लिखा, 'हम भाग रहे हैं. भारी बमबारी में कई लोग मारे गए हैं. हम जिंदा रहने के लिए लड़ रहे हैं.'

27 नवंबर को बाना की मां फातिमा ने लिखा, 'आखिरी संदेश- अभी हम पर भारी बमबारी हो रही है. हम और जिंदा नहीं रह पाएंगे. जब हमारी मौत हो, तो उन 2 लाख लोगों के बारे में बात करते रहिएगा जो अब भी यहां फंसे हुए हैं. विदा- फातिमा.' 

कुछ ही घंटे बाद, बाना के इसी एकाउंट पर धूल से सनी एक बच्ची की तस्वीर पोस्ट की गई, जिसके साथ लिखा था, "आज रात हमारा घर नहीं रहा... बमबारी का शिकार हो गया... मैं मलबे में हूं... मैंने मौतें देखी हैं, और मैं भी मरते-मरते बची हूं - बाना..."

बाना ने इस लड़ार्इ में अपनी एक दोस्त को खो देने की दहला देने वाली तस्वीर भी शेयर की थी. 

अलेप्पो में रूस के नेतृत्व में राष्ट्रपति बशर-अल असद की सेना विरोधी गुट के कब्जे वाले हिस्सों में जमकर सैन्य कार्रवाई कर रही है. 

First published: 29 November 2016, 17:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी