Home » इंटरनेशनल » Syrian military says Aleppo has returned to government control, ending 4 year rebel hold over parts of city
 

अलेप्पो की आज़ादी का एलान लेकिन 23 लाख आबादी वाला शहर वीरान!

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 December 2016, 10:03 IST
(एएफपी)

चार साल तक चले संघर्ष के बाद सीरियाई सेना ने अलेप्पो शहर पर पूर्ण रूप से नियंत्रण कर लिया है. पिछले एक महीने से अलेप्पो में जानमाल के बड़े पैमाने पर नुकसान की खबरें आई हैं.

विद्रोहियों को पूरी तरीके से अलेप्पो से खदेड़ दिया गया है. इंटरनेशनल रेडक्रास समिति ने भी इसकी पुष्टि की है. रेडक्रॉस का कहना है, "जो नागरिक निकलना चाहते थे, उन्हें निकाल लिया गया है जिनमें घायल और विद्रोही भी शामिल हैं.''

6 साल के गृहयुद्ध में 3 लाख से ज्यादा मौतें

रेड क्रॉस ने इससे पहले तकरीबन चार हजार विद्रोहियों को खदेड़ने की बात कही थी. राष्ट्रपति असद के हवाले से सरकारी न्यूज़ एजेन्सी सना का कहना है, "अलेप्पो की आज़ादी सीरिया की ही नहीं बल्कि उन सबकी जीत है, जिन्होंने आतंकवाद के खिलाफ अपना योगदान दिया, खास तौर पर रूस और ईरान."

सीरिया में पिछले छह साल से गृहयुद्ध के हालात हैं. पूर्वी अलेप्पो में इस जंग से सबसे ज्यादा तबाही हुई है. अपुष्ट आंकड़ों के मुताबिक इस दौरान तीन लाख दस हज़ार से ज़्यादा लोगों की जानें गईं. सीरिया की बशर अल-असद सरकार का अब पांच बड़े शहरों अलेप्पो, होम्स, हमा, दमिश्क और लताकिया पर नियंत्रण हो गया है.

एएफपी

असद की सबसे बड़ी जीत

साल 2011 में हुए विद्रोह के बाद इसे बशर अल असद सरकार के लिए अब तक की सबसे बड़ी जीत माना जा रहा है. पूर्वी एलेप्पो पर साल 2012 में विद्रोहियों ने कब्ज़ा कर लिया था. सीरियाई सेना ने उन्हें शहर के कुछ हिस्सों तक सीमित कर दिया.

हालांकि पचास हजार से एक लाख के करीब लोग इन हिस्सों में फंसे हुए थे, जिन्हें निकालने का काम पिछले हफ्ते शुरू हुआ था.

सीरिया का सबसे बड़ा शहर

एलेप्पो सीरिया का सबसे बड़ा शहर है जिसकी आबादी लगभग 23 लाख है. ये शहर सीरिया का औद्योगिक और वित्तीय केंद्र भी रहा है. यही वजह है कि विद्रोही और सीरियाई सेना दोनों ही इस पर अपना नियंत्रण करना चाहते थे.

मार्च 2011 में संघर्ष शुरू होने के बाद सीरिया की आधी से ज्यादा आबादी विस्थापित हो गई है. पिछले एक महीने में पूर्वी अलेप्पो को पिछले छह साल के दौरान जानमाल की सबसे बड़ी कीमत चुकानी पड़ी है. 

34 हजार लोगों का रेस्क्यू

संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक अलेप्पो से बीते हफ्ते के दौरान कम से कम 34,000 नागरिकों और विद्रोहियों को निकाला गया है. 4 साल की जंग में सीरियाई सेना को रूस से मदद मिली.

संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि इस जंग में बहुत से निर्दोष नागरिक मारे गए. हाल ही में अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा था कि सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल-असद, रूस और ईरान के हाथ खून से रंगे हुए हैं.

First published: 23 December 2016, 10:03 IST
 
अगली कहानी