Home » इंटरनेशनल » Syria: Trump launches massive missile strike in response to chemical weapon attack
 

सीरिया: केमिकल अटैक के बाद अमेरिका का मिसाइल हमला, 6 की मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 April 2017, 12:47 IST
(ट्विटर)

सीरिया में खौफनाक केमिकल अटैक के बाद अमेरिका ने बड़ा मिसाइल हमला किया है. अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागन के मुताबिक अब तक अमेरिका ने सीरियाई सरकार के ठिकानों पर 60 से ज्यादा मिसाइल हमले किए हैं.

सीरिया में हुए केमिकल अटैक में 30 बच्चे और 20 महिलाओं समेत तकरीबन 100 से ज्यादा लोगों जान जा चुकी है. बताया जा रहा है कि इस हमले में 400 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं. 

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आदेश के बाद अमेरिका ने इस मिसाइल हमले में 60 से ज्यादा टॉमहॉक क्रूज मिसाइलों को दागा है. मिसाइलों को दागने का अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागन ने वीडियो भी जारी किया है. समाचार एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस के मुताबिक सीरियाई सेना का कहना है कि एयर बेस पर अमेरिकी मिसाइल हमले में छह लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई लोग जख्मी हैं.

ट्रंप ने असद को ठहराया जिम्मेदार

यह पहली बार है जब अमेरिका ने असद सरकार के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सीरिया के इडलिब में केमिकल अटैक के लिए सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल-असद को जिम्मेदार ठहराया था.

यूएन की बैठक में सीरिया के खिलाफ कार्रवाई पर सहमति नहीं बनने के बाद अमेरिका ने पहले ही सीरिया के खिलाफ कार्रवाई के संकेत दे दिए थे. अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने सीरिया, यमन और इराक में सैन्य कार्रवाई का आदेश देकर उत्तर कोरिया और ईरान को भी संदेश देने की कोशिश की है. माना जा रहा है कि अमेरिकी सेना अब इन देशों में भी सैन्य कार्रवाई की तैयारी कर रही है.

सीरिया बोला- अमेरिकी अटैक

सीरियाई मीडिया ने अमेरिका के मिसाइल हमले को देश पर आक्रमण बताया है. इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सीरियाई सरकार के हवाई ठिकानों पर मिसाइल अटैक को सीरिया के हित में बताया है. ट्रंप ने सीरियाई नागरिकों से मदद करने की अपील की है.

ट्रंप ने कहा है कि सीरियाई सरकार ने प्रतिबंधित रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल कर बेकसूर लोगों की जान ली है. ट्रंप ने कहा, "मैंने सीरिया में हवाई हमले का आदेश दिया है. बशर ने कई लोगों को मौत की नींद सुला दिया, जिसके चलते मुझे सोचने पर मजबूर होना पड़ा."

साथ ही ट्रंप ने फ्लोरिडा में कहा, "हम आशा करते हैं कि अमेरिका न्याय के लिए तब तक लड़ता रहेगा जब तक अंतिम रूप से शांति और भाईचारा स्थापित नहीं होता." ट्रंप ने कहा कि ईश्वर के किसी भी संतान का अंजाम इतना खौफनाक नहीं होना चाहिए. केमिकल अटैक की प्रतिक्रिया के तौर पर हमने सीरिया के चुनिंदा ठिकानों पर मिसाइल हमला शुरू किया है.

First published: 7 April 2017, 11:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी