Home » इंटरनेशनल » Teacher killed in France after showing class Charlie Hebdo cartoon prophet Muhammad
 

फ्रांस: शिक्षक ने स्कूल में बच्चों को दिखाया चार्ली हेब्दो का कार्टून, हमलावर ने बीच सड़क चाकू से काट दिया सर

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 October 2020, 9:33 IST

फ्रांस की राजधानी पेरिस में हमलावर ने बड़े रसोई के चाकू से एक शिक्षक पर चाकू से उनका सर काट उनकी हत्या कर दी. जिस शिक्षक की हत्या हुई है उन्होंने बीते दिनों ही अपनी क्लास के 12-14 साल के बच्चों को चार्ली हेब्दो द्वारा बनाए गए पैगंबर मोहम्मद के कार्टून दिखाए थे और बच्चों को अभिव्यक्ति की आजादी की बात बताई थी. इस मामले में पुलिस ने आरोपी को गोली मार दी है, जिससे उसकी मौत हो गई है जबकि चार अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

इस घटना के तुरंत बाद अधिकारियों ने घोषणा की कि इस मामले की जांच एक आतंकवाद-विरोधी न्यायाधीश द्वारा की जा रही है. राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन ने शुक्रवार रात कहा कि इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ फ्रांस की लड़ाई "अस्तित्व" की लड़ाई है थी और पीड़ित की "हत्या" कर दी गई थी.


बीबीसी की एक रिपोर्ट के अनुसार, इमैनुएल मैक्रॉन ने कहा, "कॉन्फ्लैन्स सौं होनोरी में शाम को क्या हुआ मैं इस बारे में बात नहीं करना चाहता लेकिन आज हमारे एक नागरिक को मार दिया गया. उन्होंने अपने छात्रों को अभिव्यक्ति की आज़ादी के बारे में बताया, उन्होंने उन्हें हर मुद्दे पर सोचने और यकीन करने की आज़ादी के बारे में बताया. उन पर हुआ हमला कारयाना हरकत है और वो 'इस्लामिस्ट टेररिस्ट' पीड़ित हैं."

बता दें, जिस शिक्षक की हत्या की गई है, वो इतिहास-भूगोल के प्रोफेसर थे और उनकी उम्र 47 वर्षी थी. अभिव्यक्ति की आजादी के बारे में बच्चों को जानकारी देते हुए उन्होंने चार्ली हेब्दो का कार्टून दिखाया था. इसके बाद कई अभिभावकों ने शिक्षक ने खिलाफ शिकायत दर्ज कराई, जबकि एक परिवार ने इस मामले में शिक्षक के खिलाफ कानूनी शिकायत दर्ज कराई थी.

द गार्डियन की रिपोर्ट के अनुसार, मॉस्को में जन्मे 18 वर्षीय संदिग्ध के बारे में कहा जाता है कि उसने सोशल मीडिया पर हमले की तस्वीरें साझा की हैं. कुछ मीडिया रिपोर्ट में इस बात का दावा किया गया है कि हमलावर ने पहले शिक्षक पर हमला किया और फिर उनका सर काट दिया. इस घटना के बाद आरोपी वहां से भाग गया, लेकिन स्थानिय लोगों ने तत्काल इस बात की सूचना पुलिस को दी.

पुलिस अधिकारियों ने हमलावर को सरेंडर करने के लिए कहा, लेकिन हमलावर ने सरेंडर नहीं किया और पुलिस अधिकारियों को धमकी दी जिसके बाद उसे मार गिराया गया. बताया जा रहा है कि यह घटना पेरिस के पूर्वी-पश्चिमी इलाक़े में कॉन्फ्लैन्स सौं होनोरी नाम के एक स्कूल के नज़दीक हुई है. अधिकारियों को आशंका था कि हमलावर ने आत्मघाती हमला करने के लिए अपने शरीर पर बम लगाए हुए थे, जिसके बाद उन्होंने इलाके को सील करने का फैसला लिया था.

बता दें, शिक्षक द्वारा पैंगबर मोहम्मद का कार्टून दिखाने के बाद कई लोगों ने उनका विरोध किया था तो कुछ ने उनका समर्थन भी किया था. गार्डियन की रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले में शुक्रवार की रात, एक अभिभावक ने वीडियो पोस्ट करते हुए प्रोफेसर का बचाव करते हुए लिखा,"मैं इस कॉलेज में एक छात्र का अभिभावक हूं. शिक्षक ने चार्ली हेब्दो के कार्टून इहितास से सबक लेते हुए अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की बात कही थी. उन्होंने मुस्लिम छात्रों को कक्षा से कहा था कि अगर वो बाहर जाना चाहे तो जा सकते हैं. वह एक महान शिक्षक थे."

Video: मां पर तानी बंदूक तो हमलावरों से भिड़ गया 5 साल का बच्चा, बरसाया मुक्के तो भागे बदमाश

First published: 17 October 2020, 9:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी