Home » इंटरनेशनल » Terror strikes in Saudi: explosions rock mosques in Medina and Qatif
 

मदीना समेत सऊदी अरब में सीरियल आत्मघाती हमला, 36 की मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 July 2016, 9:46 IST

इस साल रमजान का महीना इतिहास के सबसे खूनी महीने में शुमार होता जा रहा है. तुर्की, बांग्लादेश, कश्मीर, बगदाद के बाद अब इस्लाम के सबसे पवित्र शहर मदीना में आत्मघाती हमला हुआ है.

खबर है कि सऊदी अरब में कम से कम तीन आत्मघाती हमले हुए, जिनमें से एक मदीना शहर में हुआ है. इन हमलों में अब तक 36 लोगों के मारे जाने की खबर है. ये आंकड़ा अभी और बढ़ सकता है.

सऊदी अरब के स्थानीय मीडिया से आ रही खबरों के मुताबिक एक आत्मघाती हमलावर ने पैगंबर मुहम्मद की पवित्र मस्जिद के नज़दीक सुरक्षा मुख्यालय के पास ख़ुद को उड़ा लिया है. जिसमें चार सुरक्षाकर्मियों के मारे जाने की खबर है.

लोग घटनास्थल से हमले की फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर जारी कर रहे हैं. इस वीडियो में कार पार्किंग में एक गाड़ी में लगी आग दिख रही है जिसके पास दो शव दिखाई दे रहे है.

सऊदी अरब के स्थानीय टीवी चैनल अल-अरबिया टीवी के अनुसार हमलावर ने बम से खुद को तब उड़ाया जब सुरक्षाकर्मी इफ़तार कर रहे थे.

सरकार से जुड़े सब्क़ न्यूज़ और ओकाज़ अख़बार ने इसे आत्मघाती हमला बताया है. लेकिन इस धमाके के बारे में विरोधाभासी खबरें भी हैं.

फिलहाल सऊदी सरकार की ओर से हमले के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है. अभी तक किसी ने भी इस हमले की ज़िम्मेदारी नहीं ली है.

मदीना इस्लाम धर्म में मक्का के बाद सबसे पवित्र मानी जाने वाली जगह है. यहां पैगंबर मुहम्मद को दफ़नाया गया था.

इस हमले से पहले सोमवार को पूर्वी शहर कतीफ़ में भी एक शिया मस्जिद के पास आत्मघाती हमला होने की ख़बरें आई थीं. कतीफ़ में काफी संख्या में अल्पसंख्यक शिया मुसलमान रहते हैं.

शिया बहुल क्षेत्र कातिफ में निवासियों ने बताया कि एक आत्मघाती हमलावर ने अल्पसंख्यक शियाओं की मस्जिद के बाहर अपने को उड़ा लिया.

मदीना में पैगंबर की मस्जिद के बाहर हुए आत्मघाती विस्फोट में चार सुरक्षाकर्मियों के मारे जाने की पुष्टि हुई है.

दो अन्य हमलावरों ने तड़के शाही स्थल के समीप खुद को उड़ा लिया. इस स्थल को पूर्व में सुन्नी आतंकवादियों के इस्लामिक स्टेट ग्रुप ने निशाना बनाया था.

इससे पहले एक अन्य आत्मघाती हमलावर ने जेद्दाह के रेड सिटी शहर में अमेरिकी वाणिज्य दूतावास के पास विस्फोट से धमाका किया.

कहां-कहां हुआ हमला

सऊदी अरब के स्थानीय मीडिया के मुताबिक, अल-कातिफ शहर की अल कदीह इमाम अली शिया मस्जिद में एक हमलावर ने खुद को उड़ा लिया. इसमें 30 लोगों की मौत हुई है. यह जगह शिया मुस्लिमों का गढ़ है.

इसके कुछ ही मिनटों बाद दूसरा हमला मदीना शहर में पैगंबर मोहम्मद की मस्जिद के बाहर हुआ. यहां सुसाइड बॉम्बर ने सिक्योरिटी पोस्ट पर खुद को उड़ा लिया. हमले के समय गार्ड्स इफ्तार कर रहे थे.

तीसरा हमला जेद्दाह में अमेरिकी दूतावास के पास सोमवार सुबह हुआ था, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई. हमलावर मरीज बनकर दूतावास के पास की मस्जिद की ओर जा रहा था. सुरक्षाबलों ने उसे रोका तो खुद को उड़ा लिया.

मक्का के बाद मदीना को इस्लाम धर्म में सबसे पवित्र स्थल के रूप में पूजा जाता है. हर साल यहां दुनिया भर से करोड़ों श्रद्धालु हज के लिए आते हैं.

ब्लास्ट के वक्त मदीना मस्जिद के बाहर मौजूद एक चश्मदीद ने बताया कि हमलावर की उम्र 17-18 साल के आस-पास रही होगी.

हमलावर इफ्तार कर रहे गार्ड्स के पास गया और उनसे फल मांगे फिर उसने शरीर पर लगे बम एक्टिवेट कर खुद को उड़ा लिया.

किस संगठन की करतूत?

अब तक किसी भी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है. लेकिन सऊदी सरकार को इस हमले के पीछे आतंकी संगठन आईएस का हाथ होने की आशंका है. बता दें कि पिछले कुछ दिनों में दुनियाभर में इस तरह के हमले हुए हैं.

ढाका में बीती शुक्रवार की रात डिप्लोमैटिक जोन में बने होटल पर आईएस का संदिग्ध हमला हुआ. इसमें एक भारतीय लड़की समेत 20 विदेशी मारे गए.

न्यूयॉर्क के सेंट्रल पार्क में धमाके में एक शख्स घायल हो गया था. वहीं, बगदाद में रमजान की खरीदारी के लिए आए लोगों पर भरे बाजार में हमला हुआ. इसमें 200 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई.

First published: 5 July 2016, 9:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी