Home » इंटरनेशनल » There was clear Intel report about easter bombing in Sri Lanka before 10 days
 

श्रीलंका में हुए सिलसिले वार धमाकों को लेकर 10 दिन पहले मिली थी खुफिया रिपोर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 April 2019, 8:13 IST

श्रीलंका में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में 321 लोगों की जान चली गई. मारे गए लोगों में 38 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं जिनमें से 10 भारतीय है. बता दें कि श्रीलंका में हुए इन सिलसिलेवार धमाकों के बारे में सरकार को पहले ही खुफिया जानकारी मिल गई थी, बावजूद इसके सरकार सुरक्षा के कोई कठोर इंतजाम करने में नाकाम रही. बता दें कि 11 अप्रैल एक पत्र मिला था जिसमें साफ चेतावनी दी गई थी कि एक स्थानीय समूह श्रीलंका में चर्चों पर आत्मघाती हमला करने की योजना बना रहा है.

बता दें कि कोलंबो के डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस प्रियालाल दिसानायक के हस्ताक्षर वाले एक पत्र में श्रीलंका की सुरक्षा एजेंसियों के निदेशकों को यह खुफिया जानकारी दी गई थी. इस पत्र में नेशनल तौहीक जमान के नेता मोहम्मद जहारान का भी जिक्र किया गया था. इस खुफिया रिपोर्ट में बताया गया था कि जहारान समूह देश में आत्मघाती हमले की तैयारी कर रहा है.

उन्होंने इस पत्र के माध्यम से सुरक्षा निदेशकों को इस दिशा में जरूरी कदम उठाने की हिदायत भी दी थी. इसके बावजूद श्रीलंका में इतनी बड़ी तबाही मच गई और 321 बेगुनाह लोग प्रार्थना के दौरान मारे गए. श्रीलंका के रक्षा मंत्री हेमासिरी फर्नांडो ने स्थानीय मीडिया को बताया कि खुफिया जानकारी पहले मिल जाने के बावजूद देश में बड़ी संख्या में मौजूद चर्चों को सुरक्षा प्रदान करना तकरीबन 'असंभव' था.

पीएम मोदी का अक्षय कुमार ने लिया इंटरव्यू, मां को लेकर पूछा सवाल तो मिला ये जवाब

First published: 24 April 2019, 8:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी