Home » इंटरनेशनल » Trump not given Amazon to Microsoft, JEDI contract worth Rs 70,840 crore
 

ट्रंप ने अमेज़न को नहीं माइक्रोसॉफ्ट को दिया 70,840 करोड़ का JEDI कॉन्ट्रैक्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 October 2019, 12:04 IST

पेंटागन ने माइक्रोसॉफ्ट को 10 बिलियन डॉलर (Rs 70,840 करोड़) डॉलर का क्लाउड कंप्यूटिंग कॉन्ट्रैक्ट दिया है. द न्यू यॉर्क टाइम्स ने बताया कि इस रेस में अमेज़न भी प्रबल दावेदार था और उसने यह कॉन्ट्रैक्ट माइक्रोसॉफ्ट को देने पर आश्चर्य व्यक्त किया है.अमेरिकी ट्रम्प ने कई मौकों पर अक्सर अमेज़न की आलोचना करते रहे हैं. माना जा रहा है कि अख़बार वाशिंगटन पोस्ट की महत्वपूर्ण कवरेज के कारण यह कॉन्ट्रैक्ट नहीं दिया गया क्योंकि अमेज़न के संस्थापक जेफ बेजोस इस अखबार के मालिक हैं.

Microsoft और Amazon के अलावा IBM, Oracle और Google जैसी प्रौद्योगिकी कंपनियों ने भी JEDI के लिए 10-वर्षीय अनुबंध प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत की थी. यह अपनी प्रौद्योगिकी प्रणालियों को आधुनिक बनाने के लिए पेंटागन के प्रयासों के केंद्र में है. एक क्लाउड सिस्टम के साथ सेना को मजबूत बनाने का प्रयास है. अधिकांश सेना अभी भी 1980 और 1990 के दशक के कंप्यूटर सिस्टम पर काम करती है.

 

अमेज़न ने सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी के क्लाउड नेटवर्क का निर्माण किया और यह क्लाउड-कंप्यूटिंग सेवाओं का दुनिया का सबसे बड़ा प्रदाता भी है. कंपनी ने कहा कि यह निर्णय से हैरान करने वाला है. इससे पहले द न्यू यॉर्क टाइम्स ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया था कि डोनाल्ड ट्रम्प ने द न्यू यॉर्क टाइम्स और द वाशिंगटन पोस्ट की व्हाइट हाउस की सब्सक्रिप्शन को रद्द कर दिया. ट्रम्प ने अक्सर मीडिया को निशाना बनाया है.

ट्रम्प कई बार समाचार संगठनों पर देशद्रोह का आरोप लगाया है और पत्रकारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने को आसान बनाने के लिए ढिलाई नियमों का आह्वान किया है. दूसरी ओर अमेज़न के संस्थापक जेफ बेजोस से Microsoft के सह-संस्थापक बिल गेट्स 105.7 बिलियन डॉलर के साथ दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति का ताज छीन लिया. इस दौरान बेजोस को स्टॉक मूल्य में लगभग 7 बिलियन डॉलर का नुकसान हुआ है. गुरुवार के कारोबार के बाद अमेजन के शेयरों में 7 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई, जिससे बेजोस 103.9 अरब डॉलर के नीचे आ गए.

Amazon के फाउंडर जेफ बेजोस अब नहीं रहे दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति

First published: 26 October 2019, 12:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी