Home » इंटरनेशनल » Turkey: 14 killed in attacks on police and military
 

तुर्की: सेना और पुलिस पर हमले में 14 लोगों की मौत, 220 जख्मी

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 August 2016, 10:37 IST
(एजेंसी)

तुर्की में सुरक्षाबलों को निशाना बनाकर किए गए सीरियल धमाकों में 14 लोगों के मारे गए हैं. बम विस्फोटों के लिए कुर्द विद्रोहियों को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है.

अधिकारियों के मुताबिक दो कार बम विस्फोट के जरिए हमलों को अंजाम दिया गया, जिससे पूर्वी तुर्की में पुलिस थानों को निशाना बनाया गया. जबकि तीसरा विस्फोट देश के दक्षिण-पूर्व हिस्से में सड़क किनारे हुआ, जिसमें सैनिकों को लेकर जा रहे एक सैन्य वाहन को निशाना बनाया गया. 

कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी जिम्मेदार

अधिकारियों का कहना है कि हमले कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी या पीकेके की ओर से किए गए जिसने कार बम विस्फोट से पुलिस थानों को निशाना बनाने या सड़क किनारे रखे बम से पुलिस वाहनों पर हमला करने का अभियान शुरू किया है. पिछले हफ्ते पीकेके कमांडर जमील बायिक ने तुर्की के शहरों में पुलिस के खिलाफ ऐसे हमले तेज करने की धमकी दी थी.

सीरियल हमले ऐसे समय में हुए हैं, जब तुर्की ने अमेरिका आधारित मुस्लिम मौलवी फतुल्लाह गुलेन के नेतृत्व वाले आंदोलन के संदिग्ध समर्थकों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की है. 

गुलेन समर्थकों पर कार्रवाई

गुलेन पर तुर्की की सरकार पिछले महीने एक असफल सैन्य तख्तापलट की साजिश रचने का आरोप लगाती है, जिसमें कम से कम 270 लोग मारे गए थे.

अधिकारियों ने बताया कि पहला बम विस्फोट गत बुधवार को पूर्वी प्रांत वान लेत में एक पुलिस थाने को निशाना बनाकर किया गया. इसमें एक पुलिस अधिकारी और दो नागरिक मारे गये. कम से कम 73 अन्य व्यक्ति घायल हो गए, जिसमें 53 नागरिक और 20 पुलिस अधिकारी शामिल हैं.

पुलिस मुख्यालय पर हमला

राष्ट्रपति रेचप तैयप एर्दोआन ने कहा कि पूर्वी तुर्की के एलाजिग शहर में गुरुवार सुबह पुलिस मुख्यालय पर एक अन्य कार बम धमाका हुआ, जिसमें कम से कम पांच व्यक्तियों की मौत हो गई. अधिकारियों ने पहले बताया कि 146 लोग घायल हुए हैं, जिसमें से 14 की हालत गंभीर है.

वीडियो फुटेज में इलाके से धुंए का गुबार उठता दिखाई दिया. कारें पलटी हुई थीं और धमाके में चार मंजिला इमारत की खिड़कियां और अन्य हिस्से उड़ गए थे.

बितलिस प्रांत में आईईडी विस्फोट

अधिकारियों ने बताया कि दक्षिणपूर्वी बितलिस प्रांत में विद्रोहियों ने सड़क किनारे तब एक आईईडी विस्फोट किया जब एक सैन्य बख्तरबंद वाहन गुजर रहा था. इस विस्फोट में पांच सैनिक मारे गए. हमले में पांच अन्य सैनिक घायल हो गए.

सरकारी अनादोलू एजेंसी ने बताया कि प्रांत में पीकेके के साथ संघर्ष में सरकारी सुरक्षाबलों की मदद करने वाले एक गांव के चौकीदार की विद्रोहियों के साथ संघर्ष में मौत हो गई.

First published: 19 August 2016, 10:37 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी