Home » इंटरनेशनल » Turkey: Explosion and gunfire rocked Istambul's Ataturk airport
 

तुर्की: इस्तांबुल एयरपोर्ट पर आत्मघाती हमले में 50 की मौत, आईएस पर शक

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 June 2016, 13:56 IST
(एएफपी)

तुर्की में इस्तांबुल का अतातुर्क इंटरनेशनल एयरपोर्ट मंगलवार को धमाकों से हिल गया. एयरपोर्ट पर दो आत्मघाती बम विस्फोट और फायरिंग की घटना को अंजाम दिया गया. जिसमें अब तक 50 लोगों की मौत की खबर है. 

बताया जा रहा है कि एयरपोर्ट में तीन हमलावर घुसे थे. दो हमलावरों ने एंट्री गेट को निशाना बनाते हुए खुद को उड़ा लिया. भारतीय समय के मुताबिक रात करीब साढ़े ग्यारह बजे यह हमला किया गया.  

अल जज़ीरा तुर्क के अनुसार, इस्तांबुल हेल्थ डाइरेक्ट्रेट क्राइसिस सेंटर ने एक दस्तावेज जारी किया है. जिसमें 106 लोगों को हमले में घायल बताया गया है.

तुर्की के जस्टिस मिनिस्टर ने बताया कि हमलावरों ने पहले सुरक्षाबलों पर एके-47 से हमला किया. तुर्की के प्रधानमंत्री ने इन हमलों के पीछे आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट का हाथ होने का शक जताया है. साथ ही पूरी दुनिया से मिलकर आतंकवाद का सामना करने की अपील की है. 

एसोसिएटेड प्रेस ने हमलावरों में से एक का फोटो ट्विटर पर जारी किया है.

हमले से जुड़ा एक वीडियो भी सामने आया है. अधिकारियों ने मीडिया को बताया कि इस विस्फोट में अब तक 50 लोगों की मौत हुई है और 120 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं. इस हमले पांच पुलिसकर्मियों की भी मौत हो गई.  

रायटर ने हवाई अड्डे के टर्मिनल के अंदर जमीन पर पड़ी एक कलाश्निकोव राइफल का फोटो ट्विटर पर जारी किया है.

एक चश्मदीद ने बताया कि गोलीबारी एयरपोर्ट के कार पार्किंग एरिया से की गई. घायलों को टैक्सी और एंबुलेंस के जरिए अस्पताल पहुंचाया गया. एयरपोर्ट के चेकप्वाइंट पर दो आत्मघाती धमाके किए गए. 

तुर्की की सरकारी एजेंसियों ने लोगों से अपील की है वे सोशल मीडिया के जरिए एयरपोर्ट पर मौजूद अपने परिजनों से संपर्क करें. जानकारी के मुताबिक एंट्री टर्मिनल पर सुरक्षाकर्मियों को दो लोगों को शक हुआ और पूछताछ के दौरान संदिग्धों ने विस्फोट कर दिया.  

एसोसिएटेड प्रेस के मुताबिक धमाकों में मरने वालों की तादाद 50 से भी ज्यादा हो सकती है. समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के हवाले से कहा गया है कि हमले में करीब 150 लोग जख्मी हो गए हैं. जिनको अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

धमाके की जानकारी मिलते ही सुरक्षा एजेंसियों ने एयरपोर्ट को घेरकर लोगों को सुरक्षित जगह पहुंचाने का काम शुरू किया. घटना के बाद एयरपोर्ट पर अफरा-तफरी मच गई. हालांकि धमाके की अभी किसी संगठन ने जिम्मेदारी नहीं ली है. 

माना जा रहा है कि इस हमले के पीछे आतंकी संगठन आईएसआईएस का हाथ हो सकता है. इस बीच अमेरिका ने तुर्की में हुए आतंकी हमले की कड़ी निंदा करते हुए एक प्रेस रिलीज जारी की है. 

इसमें कहा गया है, "अतातुर्क एयरपोर्ट ब्रसेल्स एयरपोर्ट की तरह ही अंतरराष्ट्रीय संबंधों का प्रतीक है. जो हमें एक सूत्र में बांधता है." व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव ने भी मारे गए लोगों और उनके परिजनों के प्रति गहरी संवेदना जताई है. 

अमेरिका ने साथ ही कहा है कि वह अपने सभी सहयोगियों के संग तुर्की के साथ संकट की इस घड़ी में मजबूती से खड़ा है.

First published: 29 June 2016, 13:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी