Home » इंटरनेशनल » turkey: president told everything is under control
 

तुर्की: राष्ट्रपति एर्दोआन का दावा, हालात काबू में, 1500 से ज्यादा अफसर गिरफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 July 2016, 17:19 IST

तुर्की में सेना के बागी गुट के द्वारा तख्तापलट की कोशिश नाकाम होने के बाद राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोआन ने दावा करते हुए कहा कि अब सत्ता पर उनका पूरा नियंत्रण है. इस बीच मृतकों की तादाद 161 तक पहुंच गई है.

बताया जा रहा है कि 13 साल से चल रही उनकी सरकार को पहली बार इस तरह के बगावत की चुनौती का सामना करना पड़ा है. कई घंटों की अफरातफरी और हिंसा के बाद राष्ट्रपति ने कहा कि अब सब कुछ समान्य हैं. सत्ता पूरी तरह से सरकार के नियंत्रण में है.

सेना के एक गुट के द्वारा बगावत के बाद वह आज सुबह ही विमान से इस्तांबुल पहुंचे. जहां सैकड़ों समर्थकों ने उनका स्वागत किया.

शुक्रवार देर रात सैनिक और टैंक सड़कों पर उतर आए. जिसके बाद देश का भविष्य अनिश्चितता के भंवर में फंस गया था. आठ करोड़ की आबादी वाले इस देश के दो सबसे बड़े शहरों अंकारा और इस्तांबुल में सारी रात धमाके होते रहे. तुर्की नाटो का सदस्य है.

तख्तापलट की कोशिश के विफल होने के बाद आधिकारिक समाचार एजेंसी आंदालोउ ने कहा कि 1,560 से ज्यादा अधिकारियों को पकड़ा गया है और करीब 200 निहत्थे सैनिकों ने तुर्क सैन्य मुख्यालय में समर्पण करा दिया है.

राष्ट्रपति एर्दोआन ने कहा कि उथल-पुथल खत्म करने के लिए सत्तारूढ़ जस्टिस एंड डेवलपमेंट पार्टी (एकेपी) के समर्थकों की भीड़ सड़कों पर उतर आई.

एर्दोआन ने तख्तापलट के प्रयास की निन्दा की और इसे ‘विश्वासघात’ बताया. उन्होंने कहा कि वह अपना काम कर रहे हैं और अंत तक काम करना जारी रखेंगे.

उन्होंने हवाईअड्डे पर कहा, "जो भी साजिश रची जा रही है, वह देशद्रोह और विद्रोह है. उन्हें देशद्रोह के इस कृत्य की भारी कीमत चुकानी होगी. हम अपने देश को उस पर कब्जे की कोशिश कर रहे लोगों के हाथों में नहीं जाने देंगे."

First published: 16 July 2016, 17:19 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी