Home » इंटरनेशनल » UN: 3 Of 9 Addresses Of Dawood In Pak Found Incorrect
 

भारत के दिए दाऊद इब्राहिम के पाकिस्तान में 6 पते सही निकले

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 August 2016, 9:49 IST
(पत्रिका)

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के मामले में पाकिस्तान को बेनकाब करने में भारत कामयाब हुआ है. संयुक्त राष्ट्र की एक समिति ने पाया है कि भारत ने पाकिस्तान में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के जो नौ पते बताए थे, उनमें से छह सही हैं. वहीं तीन पतों के गलत होने की पुष्टि के बाद उन्हें सूची से हटा लिया गया है.

पढ़ें: जैसलमेर में पाकिस्तानी जासूस गिरफ्तार, 35 किलो आरडीएक्स भारत पहुंचाने का शक

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अलकायदा प्रतिबंध समिति सूची से जो पते हटा रही है उनमें से एक संयुक्त राष्ट्र में इस्लामाबाद की दूत म​लीहा लोधी का आवास भी शामिल है. हालांकि भारत द्वारा मुहैया कराई गई शेष 6 पतों की लिस्ट में कोई संशोधन नहीं किया गया है.

भारत ने एक डोज़ियर में 9 पतों का उल्लेख किया था और कहा था कि ये दाऊद इब्राहिम के ठिकाने हैं और वह यहां अमूमन आता-जाता रहता है.

भारत के डोजियर में 9 पतों का जिक्र

सुरक्षा परिषद की आईएसआईएल और अलकायदा प्रतिबंध समिति ने दाऊद से जुड़ी पतों की इस जानकारी में कल संशोधन किया था. साल 1993 में मुंबई सीरियल ब्लास्ट के मास्टरमाइंड से जुड़े तीन पतों को समिति ने हटा दिया.

इस संशोधन के बारे में भारत के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि सूचीबद्ध जानकारी में दाऊद का एक पता गलत था. यह पता ‘‘राजदूत मलीहा लोधी का था, दाऊद का नहीं.’’ भारत की ओर से पिछले साल अगस्त में तैयार किए गए डोजियर में पाकिस्तान में दाऊद के नौ पते शामिल किए गए थे. यह इस बात का सबूत था कि दाऊद पाकिस्तान में छिपा हुआ है.

इस सूची में जो पते थे उनको जांचने के दौरान कमेटी को पता चला कि इसमें एक पता राजदूत मलीहा लोधी का है, दाऊद का नहीं तो उसे हटा दिया गया. भारत ने दाऊद के जिन 9 ठिकानों का जिक्र डोजियर में किया था, उसे पिछले वर्ष अगस्त में तैयार किया गया था. यह डोजियर इस बात का सबूत था कि दाऊद पाकिस्तान में ही छिपा हुआ है.

पढ़ें: दाउद और इकबाल मिर्ची के संबंधों पर मोजेक फोंसेका ने लगाई मुहर

इस डोजियर में दाऊद के कराची के नूराबाद इलाके का भी पता है जिसे हटाया नहीं गया है. इस डोजियर को पाकिस्तान के मुख्य सुरक्षा सलाहकार सरतात अजीज़ और भारतीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल की मुलाकात में दिया जाना था, लेकिन बाद में यह मीटिंग रद्द हो गई थी. 

इस डोजियर में एक पता उस मकान का था, जो दिवंगत प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो के बेटे बिलावल भुट्टो जरदारी के कराची स्थित घर के पास था. हालांकि, पाकिस्तान इस बात से हमेशा इनकार करता रहा है कि दाऊद उसके देश में है.

ठिकाने तेजी से बदलने के लिए जाना जाता है दाऊद 

डोजियर में कहा गया था, "दाउद को पाकिस्तान में अपने ठिकाने और पते तेजी से बदलने के लिए जाना जाता है. उसने पाकिस्तान में अकूत संपत्ति जुटाई है और वह पाकिस्तानी एजेंसियों की सुरक्षा में आता-जाता है."

समिति ने जो एक और संशोधन किया है, वह दाऊद के परिवार से जुड़ा है. परिवार से जुड़ी जो सूचना सूची में रेखांकित की गई है, वह है- ‘‘पिता का नाम शेख इब्राहिम अली कासकर है, मां का नाम अमीना बी, पत्नी का नाम महजबीं शेख है.

पढ़ें: ना मैं पाकिस्तानी हूं, ना हिंदुस्तानी हूं, मैं भगत सिंह हूं'

गौरतलब है कि दाऊद इब्राहिम 1993 के मुंबई बम धमाकों में वांछित है. इस हमले में 257 लोग मारे गए थे और हजारों लोग बुरी तरह घायल हो गए थे.

First published: 24 August 2016, 9:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी