Home » इंटरनेशनल » UN condemns Pulwama attack: United States asks Pakistan to immediately stop providing safe haven to terrorists
 

Pulwama attack : पाकिस्तान को अमेरिका की चेतावनी- अपनी जमीन पर आतंकियों को आश्रय देना बंद करे

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 February 2019, 11:17 IST

अमेरिका ने गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में हुए आतंकी हमले की निंदा की और पाकिस्तान से आतंकवादियों को सुरक्षित पनाहगाह देने से रोकने के लिए कहा. व्हाइट हाउस ने पाकिस्तान से आग्रह किया कि वह "अपनी धरती पर काम कर रहे सभी आतंकवादी समूहों को तुरंत समर्थन और सुरक्षित पनाहगाह मुहैया कराना बंद करें. पुलवामा आतंकवादी हमले में लगभग 40 केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवान मारे गए. आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने हमले की जिम्मेदारी ली है.

इससे पहले अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा कि वह आतंकवाद का मुकाबला करने के लिए भारत के साथ काम करने के लिए प्रतिबद्ध है. विदेश विभाग के उप प्रवक्ता रॉबर्ट पल्लेदिनो ने कहा, "भारतीय राज्य जम्मू-कश्मीर में भारतीय सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकवादी हमले की अमेरिका ने कड़े शब्दों में निंदा की है." उन्होंने मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की.

अमेरिकी विदेश विभाग के उप प्रवक्ता ने कहा कि "संयुक्त राष्ट्र द्वारा नामित, पाकिस्तान स्थित आतंकवादी समूह जैश-ए-मुहम्मद ने इस जघन्य कृत्य के लिए जिम्मेदारी का दावा किया है," सभी देशों को संयुक्त राष्ट्र द्वारा निर्धारित नियमों के तहत अपनी जिम्मेदारियों का पालन करना चाहिए और आतंकवादियों को आश्रय नहीं देना चाहिए. 

इस बीच सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी के एक पूर्व अधिकारी ने पीटीआई को बताया कि जैश-ए-मोहम्मद ने पाकिस्तान की जासूसी एजेंसी इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस की संभावित भूमिका के लिए हमले के लिए जिम्मेदारी का दावा किया है. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने हमले की कड़ी निंदा की है.

पाकिस्तान ने की हमले की निंदा 

पाकिस्तान ने भी हमले की निंदा की लेकिन जिम्मेदारी से इनकार किया. उनके विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा: “हमने घाटी में हिंसा के बढ़ रहे कार्यों की हमेशा निंदा की है. हम भारत सरकार और मीडिया हलकों में तत्वों द्वारा किसी भी आग्रह को अस्वीकार करते हैं जो हमले को बिना जांच के पाकिस्तान के राज्य से जोड़ना चाहते हैं.” फ्रांस, रूस, श्रीलंका, नेपाल, भूटान, मालदीव, थाईलैंड, जर्मनी, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया सहित कई अन्य देशों के नेताओं और प्रतिनिधियों ने हमले की निंदा की और भारत के साथ एकजुटता व्यक्त की है.

Pulwama attack: आतंक से निपटने के लिए भारत के साथ खड़ा हुआ रूस-अमेरिका, पड़ोसी देशों ने भी दिखाई एकजुटता

First published: 15 February 2019, 10:36 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी