Home » इंटरनेशनल » united state slams china over masood azhar donald trump united nations terrorist ban
 

आतंकी अजहर मसूद के प्रति याराना दिखाने पर US ने चीन को दी ये चेतावनी

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 March 2019, 8:56 IST

आतंकी अजहर मसूद के प्रति चीन ने एक बार फिर अपना याराना दिखाते हुए संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा समिति की बैठक में वीटो पावर का इस्तेमाल करते हुए भारत की कोशिशों को नाकाम कर दिया. चीन के इस रवैये से भारत काफी निराश हुआ. इसके लिए भारत ने अपनी कड़ी आपत्ति दर्ज कराई.

मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के मामले में अमेरिका ने भी भारत का साथ दिया. UNSC में अमेरिका ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अगर चीन लगातार ऐसा करता रहा, तो जिम्मेदार देशों को इसके प्रति कोई बड़ा कदम उड़ाना पड़ेगा.

अमेरिका ने अपने जारी बयान में कहा, "पाकिस्तान चीन की मदद से कई बार जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित होने से बचाता रहा है. ये चौथी बार है जब चीन ने इस तरह से मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित होने से बचाया है."

अमेरिका ने कड़े शब्दों में कहा कि यदि चीन इसी तरह आतंकी मसूद अजहर को बचाता रहा तो UN के अन्य सदस्यों को कोई ठोस कदम उठाना पड़ेगा. इसलिए चीन अपने रवैये को बदले ले. सख्त कदम उठाने के हालात पैदा ना करें.

बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले का मुख्यारोपी आतंकी मसूद अजहर को मंगलवार को वैश्विक आतंकी घोषित किया जाना था, जिसे चीन द्वा वीटो पावर इस्तेमाल कर रद्द कर दिया गया.

इस प्रस्ताव को भारत सहित संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद के ही सदस्य अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन ने पेश किया था. चीन के इस रवैये से भारत के विदेश मंत्रालय द्वारा भी बयान जारी किया गया. भारत की ओर से कहा कि चीन के इस रवैये से हम बहुत निराश हैं, लेकिन अन्य सदस्य देशों ने जिस तरह भारत का साथ दिया उसके लिए उनका धन्यवाद.

मालूम हो कि चीन के इस मूव से सोशल मीडिया पर काफी आक्रोेश दिखाया जा रहा है. भारत के ज्यादातर लोग #BoycottChina ट्रेंड कर रहे हैं. इतना ही नहीं भारत में चीन के सामानों का भी विरोध हो रहा है.

एक बार फिर चीन बना भारत के लिए रोड़ा, मसूद को घोषित नहीं होने दिया वैश्विक आतंकी

First published: 14 March 2019, 8:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी