Home » इंटरनेशनल » united states bans boeing 737 max flights
 

भारत समेत दुनिया के कई देशों के बाद अब अमेरिका ने भी किया बोइंग 737 मैक्स को बैन

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 March 2019, 11:12 IST

भारत समेत दुनिया के कई देशों में इथोपिया विमान हादसे के बाद बोइंग 737 मैक्स 8 के इस्तेमाल पर रोक लगा दी गई. भारत के बाद अब अमेरिका ने बुधवार को बोइंग 737 मैक्स के सभी विमानों पर उड़ान भरने से रोक लगाने की घोषणा की है.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस में मीडिया से कहा कि हम बोइंग 737 मैक्स 8 और मैक्स 9 के सभी विमानों को उड़ान भरने से रोकने के लिए एक आदेश जारी करने जा रहे हैं.

क्या दिक्कत है बोइंग में ?

एक न्यूज़ अमेरिकी वेबसाइट संयुक्त राज्य अमेरिका के पायलटों ने हाल के महीनों में उड़ान के महत्वपूर्ण क्षणों के दौरान अपने बोइंग 737 मैक्स 8 जेट को नियंत्रित करने में समस्याओं के बारे में कम से कम पांच बार शिकायत की थी.

फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन (एफएए) के घटना डेटाबेस की समीक्षा के अनुसार पिछले अक्टूबर में इंडोनेशिया में लायन एयर दुर्घटना के संभावित कारण सामने आये, जिनमे एंटी-स्टॉल सिस्टम शामिल है, जो पायलटों को सेल्फ- रिपोर्ट करता है. हालांकि जांचकर्ताओं ने यह नहीं बताया है कि क्या यही दिक्कत रविवार को इथियोपियाई एयरलाइंस की उड़ान के दुर्घटनाग्रस्त होने के संभावित कारण के रूप में उभर कर आई थी.

स्पाइस जेट ने अमेरिका से की 205 बोइंग की डील

साल 2014 में बंद होने की कगार पर आ चुकी स्पाइसजेट ने साल 2016 में 205 बोईंग विमानों का आर्डर देकर सबको चौंका दिया था. इसे किसी भारतीय एयरलाइन कंपनी द्वार की गई सबसे बड़ी डील माना जा रहा था. यहां तक कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने इसके लिए अजय सिंह का शुक्रिया अदा किया था. ट्रम्प ने कहा था कि बोइंग विमानों के लिए 22 बिलियन डॉलर के इस ऑर्डर के माध्यम से अमेरिकी नौकरियां बनाने में मदद मिलेगी.

 

First published: 14 March 2019, 11:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी