Home » इंटरनेशनल » US president Donald Trump accused Pakistan for sheltering Osama bin Laden
 

पाकिस्तान को फिर पड़ी फटकार, डोनाल्ड ट्रंप ने बताया क्यों रोकी सैन्य सहायता की करोड़ों की राशि

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 November 2018, 12:43 IST

पाकिस्तान को एक बार फिर से वैश्विक पटल पर फटकार झेलनी पड़ी है. पाकिस्तान की आर्थिक हालत के चलते पहले ही बहुत आलोचना हो चुकी है. हाल ही में अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली करोड़ों की सैन्य सहायता रोकने का ऐलान किया था. इसके बाद से अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अपने इस फैसले पर सफाई देते हुए कहा कि पाकिस्तान ने अमेरिका के लिए कुछ नहीं किया है बल्कि उल्टा अमेरिका के खिलाफ जाकर आतंकी लादेन को अपने देश में पनाह दी.

डोनाल्ड ट्रंप ने एक मीडिया हाउस के दिए इंटरव्यू में कहा, ''अमेरिका ने हमेशा पाकिस्तान को अपना दोस्त माना लेकिन पाकिस्तान ने अमेरिका के खिलाफ जाकर ही लादेन को अपने देश में पनाह दी.''

इसी के साथ ट्रंप ने आरोप लगाते हुए कहा कि पाकिस्तान में सभी को पता था कि ओसामा बिन लादेन कहां रह रहा है. अमेरिका के राष्ट्रपति ने कहा, ''जरा सोचिए, पाकिस्तान में रहना और इस बेहतर तरीके से रहना. ये कैसे मुमकिन है कि पाकिस्तान के हुक्मरानों को इसका पता न हो.''

धार्मिक गुरु ने किया 9 साल की बच्ची का रेप, पिता ने सजा में काट डाला प्राइवेट पार्ट

पाकिस्तान की सेना को लादेन के साथ मिलीभगत करने का आरोप लगाते हुए ट्रंप ने कहा, " लादेन का पाकिस्तान में सैन्य अकादमी के ठीक बगल में रहना. पाकिस्तान में हर कोई जानता था कि वह वहां पर है. हम पाकिस्तान को एक वर्ष में 1.3 अरब डॉलर दे रहे थे और वह पैसा लादेन की अय्याशी पर खर्चा किया जा रहा था. लादेन पाकिस्तान में रह रहा था, जबकि हम पाकिस्तान का समर्थन कर रहे थे. मैंने अब यह मदद समाप्त कर दी, क्योंकि वे हमारे लिए कुछ नहीं करते.''

गौरतलब है कि अमरीका ने स‍ितंबर 2018 में पाकिस्तान को दी जाने वाली 30 करोड़ डॉलर की सैन्य सहायता ख़तम करने का फैसला किया था. जिसके बाद से अमरीका और पाकिस्तान के रिश्ते में और तनाव हो गया है. इसके पहले भी ट्रंप ने पाक्सितान को आतंकियों का पनाहगार बताया था.

First published: 19 November 2018, 12:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी