Home » इंटरनेशनल » USPoll: Trump clashes with Trump supporters and police in US, Twitter blocks Trump
 

USPoll : अमेरिका में ट्रंप समर्थकों और पुलिस में हिंसक झड़पें, ट्विटर- फेसबुक ने ट्रंप को किया ब्लॉक

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 January 2021, 9:07 IST

अमेरिका की राजधानी वॉशिंगटन में कैपिटल परिसर के बाहर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों और पुलिस के बीच हिंसक झड़पें हुई. हिंसा के बाद पूरे परिसर को बंद कर दिए गया. प्रो-ट्रम्प प्रदर्शनकारियों ने बुधवार दोपहर को लगभग चार घंटे तक यू.एस. कैपिटल पर धावा बोल दिया.वीडियो में लोगों को खिड़कियां तोड़ते हुए और अंदर जाने के लिए बैरिकेड्स को हटाते दिखाया गया है. चुनाव को लेकर बार-बार झूठे आरोप लगाने के बाद ट्विटर ने यूजर्स पॉलिसी का उल्लंघन करने के लिए ट्रंप को 12 घंटे के लिए ब्लॉक कर दिया. पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा का कहना है कि इतिहास कैपिटल में हिंसा को याद रखेगा, उन्होंने कहा यह देश के लिए सबसे बड़े शर्म की बात है.

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का समर्थन करने वाले प्रदर्शनकारियों ने बुधवार को जॉर्जिया से न्यू मैक्सिको तक प्रदर्शन किया. राज्य की राजधानियों में सैकड़ों लोग इकट्ठा हुए, जिन्होंने राष्ट्रपति चुनाव का विरोध किया, जो 'स्टॉप द स्टिल' और 'फोर मोर इयर्स' कहते हुए राष्ट्रपति चुनाव का विरोध कर रहे थे. कोरोना वायरस महामारी के बीच उनमें से ज्यादातर ने मास्क नहीं पहना था और कुछ ने ओक्लाहोमा, जॉर्जिया, एरिज़ोना और वाशिंगटन राज्य जैसी जगहों पर बंदूकें चला दीं. ओहियो और कैलिफोर्निया जैसे राज्यों में काउंटरप्रोसेसर के साथ कुछ झड़पें हुईं. 


 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस घटना पर दुःख व्यक्त किया है. पीएम मोदी ने कहा ''वाशिंगटन डीसी में दंगे और हिंसा की खबरें देखकर दुखी हूं. व्यवस्थित और शांतिपूर्ण तरीके से सत्ता का हस्तांतरण जारी रहना चाहिए. लोकतांत्रिक प्रक्रिया को गैरकानूनी विरोध के माध्यम से विकृत नहीं होने दिया जा सकता है.

सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने सुरक्षा भंग कर दी और कैपिटल भवन में प्रवेश कर गए, जहां कांग्रेस के सदस्य चुनाव कॉलेज के वोटों की गिनती और प्रमाणित करने की प्रक्रिया से गुजर रहे थे. इसके बाद हाउस, सीनेट और पूरे कैपिटल को लॉकडाउन किया गया. अमेरिकी कांग्रेस के सदस्यों को अपनी सीटों के नीचे गैस मास्क रखने के लिए कहा गया क्योंकि पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस का सहारा लिया.

सीएनएन ने बताया कि इस घटना में कई अधिकारी घायल हो गए हैं, जिन्हें कम से कम एक अस्पताल पहुंचाया गया है. कहा गया है कि ट्रम्प ने पहले अपने समर्थकों को कैपिटल में जाने के लिए प्रोत्साहित किया. एक वीडियो संदेश में ट्रंप ने कहा, "यह एक कपटपूर्ण चुनाव था, लेकिन हम इन लोगों के हाथों में नहीं खेल सकते. हमें शांति रखनी होगी. इसलिए घर जाएं."

दुनिया के तीसरे सबसे अमीर आदमी जैक मा हुए 'लापता', दो महीने से नहीं आए नजर, चीनी सरकार की आलोचना करना पड़ा भारी

First published: 7 January 2021, 9:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी