Home » इंटरनेशनल » Vijay Gokhale and Mike Pompeo meet on terrorism issue says pak must take strong steps to end terrorism
 

आतंकवाद पर सख्ती को लेकर भारत को मिला अमेरिका का साथ, कहा- आतंक पर ठोस कदम उठाए पाक

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 March 2019, 7:26 IST

आतंकवाद के खात्मे को लेकर भारत को एक बार फिर से अमेरिका का साथ मिला है. सोमवार को भारत और अमेरिका के बीच हुई बातचीत में ये बात स्पष्ट हो गई कि दोनों देश आतंकवाद को खत्म करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबंध हैं. साथ ही पाकिस्तान को भी कड़े शब्दों में आतंकवाद को लेकर सख्ती बरतने की बात कही. सोमवार को दोनों देशों की हाईलेवल मीटिंग में इस बात पर सहमत हुए कि पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ ठोस कार्रवाई करे. साथ ही पाकिस्तान अपनी जमीन पर आतंकी संगठनों को पनाह देना बंद करे.

दोनों देशों ने साफ कहा कि जो लोग या देश किसी भी रूप में आतंकवाद का समर्थन करते हैं, या बढ़ावा देते हैं उन्हें जवाबदेह ठहराया जाए. बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद एक बार फिर से पाकिस्तान पर आतंकवाद को रोकने का दुनियाभर से दबाव डाला जा रहा है.

इस बैठक में भारतीय विदेश सचिव विजय गोखले और अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो शामिल हुए. जिसमें दोनों के बीच विदेश नीति और सुरक्षा से जुड़े अहम मुद्दों पर चर्चा हुई. विदेश सचिव गोखले रविवार को अमेरिका पहुंचे थे. अपनी यात्रा के दौरान विदेश सचिव के अमेरिकी प्रशासन और अमेरिकी कांग्रेस के वरिष्ठ अधिकारियों से भी मुलाकात की संभावना है.

विदेश सचिव गोखले ने पुलवामा हमले के बाद भारत को अमेरिका से मिले समर्थन को लेकर ट्रंप सरकार और पोम्पियो की तारीफ की है. साथ ही पोम्पियो ने भी सीमा पार यानि से होने वाले आतंकवाद के बारे में भारत की चिंताओं को समझने की बात कही. बता दें कि पुलावामा हमले के बाद दोनों देशों के बीच तनाव के बीच पोम्पियों दोनों के संपर्क में थे. उन्होंने भारत-पाकिस्तान के बीच हर हालात पर नजर रखी थी ताकि युद्ध जैसे हालात नहीं बनें.

जम्मू-कश्मीर: पुलवामा की तरह हो सकता है एक और बड़ा आतंकी हमला, जैश की नई साजिश का खुलासा

First published: 12 March 2019, 7:26 IST
 
अगली कहानी