Home » इंटरनेशनल » visa validity reduced for pakistan citizens america donald trump
 

Air Strike के बाद अब पाकिस्तानियों पर 'अमेरिकी स्ट्राइक', वीजा को लेकर बनाए गए सख्त नियम

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 March 2019, 11:01 IST

पुलवामा आतंकी हमले के बाद अमेरिका ने पाकिस्तान को तगड़ा झटका दिया. अब अमेरिकी सरकार ने अमेरिका में आने वाले पाकिस्तानी नागरिकों की वीजा वैलिडिटी को घटा जिया गया है. पहले पाकिस्तानी नागरिकों को 5 साल का वीज़ा मिलता था, जो अब घटाकर 12 महीने कर दी गई है.

पाकिस्तान अखबार द ट्रिब्यून के मुताबिक, अमेरिकी राजदूत ने इस बात की सूचना पाकिस्तान सरकार को दे दी है. द ट्रिब्यून में छपी खबर के अनुसार, नए नियमों में पाकिस्तानी पत्रकार और मीडियापर्सन के लिए और भी मुश्किल हैं उनको मिलने वाले वीज़ा की अवधि 3 महीने कर दी गई है. यानि अब कोई पाकिस्तानी नागरिक अमेरिका जाना चाहता है तो वे एक बार में 12 महीने से अधिक वहां नहीं रह सकता है, अगर उसे अधिक समय तक वहां रहना हुआ तो उसे वापस पाकिस्तान आना होगा और वीज़ा को रिन्यू करवाना होगा.

सिर्फ इतना ही नहीं वीजा की अवधि घटाने के साथ-साथ अमेरिका ने इसकी फीस भी बढ़ा दी है. वर्क वीज़ा, जर्नलिस्ट वीज़ा, ट्रांसफर वीज़ा, धार्मिक वीज़ा के लिए फीस में बढ़ोतरी की गई है. इनके लिए जो भी वीज़ा अभी है उसमें 32 से 38 डॉलर तक की बढ़ोतरी की गई है. मतलब अगर अब कोई पाकिस्तानी पत्रकार अमेरिका जाना चाहता है तो उन्हें वीज़ा अप्लाई करने के लिए 192 डॉलर देने होंगे जबकि कुछ अन्य कैटेगरी में 198 डॉलर की फीस हुई है.

बता दें कि अमेरिका के द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, 2018 में करीब 38 हजार पाकिस्तानियों को US का वीज़ा देने से इनकार किया गया था. मालूम हो कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काफी झटके लगे हैं. अमेरिका ने पहले ही पाकिस्तान की दी जाने वाली मदद पर रोक लगा दी है.

पाकिस्तान चारों ओर के दबाव से झुका, FIF और हाफिज सईद के जमात-उद-दावा को किया बैन

First published: 6 March 2019, 11:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी