Home » इंटरनेशनल » Young woman taken to hospital having nurse shark still attached to her arm
 

दो फिट की हमलावर शार्क, जान चली गई पर हाथ नहीं छोड़ा

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 May 2016, 18:47 IST

पानी में रहकर मगर से बैर नहीं लेते. यह सच्चाई है. लेकिन पानी में ही रहने वाली पिरान्हा, जेली और शार्क मछली भी इंसानों के लिए कम खतरनाक नहीं हैं. इसका ताजा उदाहरण देखने को मिला फ्लोरिडा के समुद्र में. जहां दो फुट लंबी एक शार्क मछली ने एक युवती के हाथ में अपने दांत गड़ा दिए और काफी प्रयासों के बाद भी उसने हाथ नहीं छोड़ा. मजबूरन युवती को अस्पताल जाना पड़ा.

द इंडिपेंडेंट में छपी रिपोर्ट के मुताबिक फ्लोरिडा स्थित बोका रैटॉन के समुद्र में एक 23 वर्षीय युवती कथित रूप से बाहर निकली जिसके दाहिने हाथ में दो फुट बड़ी एक नर्स शार्क मछली चिपकी हुई थी.

Shark attached to woman arm2.jpg

एबीसीन्यूज.गो.कॉम

दर्द से छटपटाते और अपना हाथ बचाने की युवती की कोशिश में शार्क मछली मर गई. समुद्र तट पर जब तक चिकित्सीय दल पहुंचता शार्क मर गई थी. लेकिन शार्क के दांत युवती के हाथ में गड़े हुए थे जिसकी वजह से चिकित्सकों ने हाथ के नीचे एक बोर्ड लगाकर शार्क को उसी से बांध दिया, ताकि उसका वजन हाथ पर न पड़े.

पढ़ेंः मालिक की बेटी को बचाने के लिए सांप से टकराया कुत्ता

हालांकि पीड़ित युुवती के नाम का खुलासा नहीं हुआ. लेकिन उसे बोका रैटॉन रीजनल अस्पताल ले जाया गया. बोका रैटॉन फायर रेस्क्यू सर्विसेज के मुताबिक जब युवती को अस्पताल लाया गया तब वो ठीक थी. 

Shark attached to woman arm.jpg

अस्पताल में शार्क मछली को दिखाती युवती (साभारःएबीसीन्यूज.गो.कॉम)

वहीं, सन सेंटीनेल के मुताबिक एक 11 वर्षीय लड़के नेट पैचर ने दावा किया कि वो और उसका भाई भी उसी जगह पर खेल रहे थे जहां यह युवती और अन्य लोग समुद्र में थे.

वायरल वीडियोः लाइव स्ट्रीमिंग कर किशोरी ने की आत्महत्या

उसने दावा किया कि युवती के साथ वाला ग्रुप शार्क मछलियों के साथ छेड़छाड़ कर रहा था और उन्हें पूंछ से पकड़ने की कोशिश कर रहा था.

अखबार को नेशनल पार्क सर्विस के प्रवक्ता ने बताया, "जानबूझकर या अंजाने में लोग रोजाना नर्स शार्क के पास खेलते हैं और अभी तक कोई घटना नहीं घटी. मनुष्यों पर इनके हमले दुर्लभ हैं लेकिन अज्ञात नहीं. इस तरह की क्लैंपिंग बाइट (दांत फंसाकर काटना) सामान्यता तब घटित होती है जब एक मछुआरा या डाइवर शार्क को हुक, स्पीयर, जाल या हाथ से पकड़ने की कोशिश करे."

देखेंः तस्वीरों में 35 टन मरी हुई मछलियों का दर्दनाक नजारा

नेशनल जियोग्राफिक के मुताबबिक नर्स शार्क सामान्यता मनुष्यों पर हमला नहीं करती हैं. यद्यपि इनके अपनी रक्षा में दांत से काटने की जानकारी है, वो भी तब जब कोई उन्हें यह सोचकर परेशान करे कि यह बहुत डरपोक या शांत होती हैं. इनकी लंबाई 14 फुट तक हो सकती है और इनके मजबूत जबड़ों में हजारों छोटे लेकिन तेजधार दांत होते हैं.

First published: 21 May 2016, 18:47 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी