Home » आईपीएल » 11 years of IPL : How did the IPL become the most important part of the indian economy
 

11 साल में कैसे IPL देश की इकॉनमी का सबसे अहम हिस्सा बन गया?

सुनील रावत | Updated on: 7 April 2018, 16:58 IST
Source: BCCI (BCCI)

आज से क्रिकेट लीग का महाकुम्भ शुरू होने जा रहा है. साल 2008 से शुरू हुआ आईपीएल अब 11 साल का हो चुका है और इन 11 सालों में आईपीएल ने न सिर्फ खिलाड़ियों को मालामाल किया भारत बल्कि यह देश की अर्थव्यवस्था का भी एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है. आईपीएल से होने वाली कमाई का अंदाजा सिर्फ इसी से लगाया जा सकता है कि 2008 से अब तक बीसीसीआई ने कुल 3,500 करोड़ रुपये का टैक्स जमा किया है.

IPL राइट्स की कीमत 16,437.50 करोड़

साल 2017 में आईपीएल के डिजिटल और टेलीविजन प्रसारण अधिकार स्टार इंडिया ने 16,437.50 करोड़ रुपये में पांच साल के लिए खरीदे. यानी एक गेंद दिखाने के लिए स्टार ने 25 लाख रुपये खर्च किए हैं और एक ओवर के लिए स्टार को 1.5 करोड़ रुपये खर्च करने पड़े हैं. यह आंकड़ा एक मैच के लिए 60 करोड़ रुपये बैठता है. ख़बरों की माने तो हालही में स्टार इंडिया ने आईपीएल 11 के लिए 500 करोड़ रुपये की ऐड इनवेंटरी बेची थी.

आईपीएल के डिजिटल अधिकार पाने के लिए फेसबुक, अमेजॉन, ट्विटर, याहू, रिलायंस जियो, स्टार इंडिया, सोनी पिक्चर्स, डिस्कवरी, स्काई, ब्रिटिश टेलीकॉम और ईएसपीएन डिजिटल मीडिया जैसी कंपनियां शामिल थी.

Source : BCCI (BCCI)

ऐसे कमाता है IPL 

आईपीएल की आय का लगभग 60 प्रतिशत अपने प्रायोजक से आता है कुल प्रायोजक राजस्व का लगभग 50 प्रतिशत सभी फ्रेंचाइजी के बीच वितरित किया जाता है. इस पैसे का 60 प्रतिशत हिस्सा बीसीसीआई द्वारा फ्रेंचाइजी के बीच वितरित किया जाता है. इस पैसे का 60 प्रतिशत हिस्सा बीसीसीआई द्वारा फ्रेंचाइजी के बीच वितरित किया जाता है. यह एक और गारंटीकृत आय है जो सभी फ्रेंचाइजी सालाना बनाते हैं. स्टार इंडिया के पास अधिकार हैं जो 16,347.5 करोड़ रुपये के मूल्य के हैं.

IPL से सरकार को मिलता है इतना टैक्स 

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) अब आयकर विभाग के लिए भी कमाई का एक बड़ा जरिया बनता जा रहा है. एक रिपोर्ट की मानें तो 2008 में आईपीएल शुरू होने के बाद से बीसीसीआई ने कुल 3,500 करोड़ रुपये का टैक्स जमा किया है. बीसीसीआई ने ये रकम 2008 वित्तीय वर्ष से अभी तक की दी हैं. बता दें इनकम टैक्स विभाग आईपीएल के लिए बीसीसीआई को टैक्स में किसी तरह की रियायत भी नहीं देता है. एक अनुमान के मुताबिक बीसीसीआई ने आईपीएल से अभी तक करीब 12 हजार करोड़ रुपए की कमाई कर ली.

First published: 7 April 2018, 16:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी