Home » आईपीएल » ICC world Cup 2019 Ravi Shastri First Indian world cup coach in this century
 

भारतीय टीम को विश्व कप जिताने की जिम्मेदारी है 'देसी कोच' पर, 20 साल बाद होगा ऐसा

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 April 2019, 12:54 IST

भारत को  विश्व कप जीताने की ज़िम्मेदारी जिन 15 खिलाड़ियों होगीं उनके नामों का ऐलान हो गया है. विश्व कप खेलने जाने वाली टीम में  इस बार 8 ऐसे खिलाड़ी है जो पहली बार विश्व कप खेलेंगे. वहीं साल 1999 के बाद ऐसा पहली बार होगा जब टीम को तीसरी विश्व कप जीताने की जिम्मेदारी एक देसी कोच पर होगी.

 

साल 2003 में विश्व कप खेलने वाली टीम के कोच जॉन राइट थे, जो न्यूजीलैंड के लिए खेलते थे, उनकी टीम ने आज तक को विश्व कप नहीं जीता है.

 साल 2007 में ग्रेग चैपल टीम के कोच बने, चैपल आस्ट्रेलिया के लिए खलते थे. आस्ट्रेलिया ने पहली बार 1987 में विश्व कप जीता था, तब चैपल रिटायर्ड हो चुके थे.


उनके बाद गैरी कर्स्टन टीम इंडिया के कोच बने. गैरी कर्स्टन साउथ अफ्रीका के लिए खेलेत थे. इस टीम ने भी आज तक विश्व कप नहीं जीता है. लेकिन टीम इंडिया साल 2011 में उनके मार्गदर्शन में विश्व चैंपियन ज़रूर बनीं.

कर्स्टन के बाद टीम के कोच बने ज़िम्बाव्बे के डंकन फ्लेचर. साल 2015 में टीम इंडिया विश्व कप जीतने में सफल नहीं हो पाई थी. उनके बाद टीम के कोच बने रवि शास्त्री.शास्त्री साल 1983 में विश्व कप जीतने वाली टीम का हिस्सा थे. शास्त्री ने विश्व कप में पांच मैच खेले है और उनके नाम 5 विकेट भी है.

रवि शास्त्री का टीम इंडिया में बतौर गेंदबाज़ के तौर पर चयन हुआ था. लेकिन उन्होंने टीम के लिए बल्लेबाजी भी की है. और कुछ मौकोे पर भारत की तरफ से खेलते हुए उन्होंने ओपनिंग भी की है. रवि शास्त्री साल 1985 में हुए बेसन हेजेस कप की टीम का हिस्सा थे. तब उन्हें बेहतर प्रदर्शन के लिए चैंपियन ऑफ चैंपियंस का आवार्ड मिला था. शास्त्री के पास अब टीम को चैंपियन बनाने की जिम्मेदारी है.

World Cup 2019: मात्र तीन माह का वनडे करियर और 5 मैचों में की बल्लेबाजी, फिर भी मिली टीम इंडिया में जगह

IPL 2019: मांकडिंग विवाद के बाद फिर आमने-सामने अश्विन और बटलर, लेकिन रद्द हो सकता है यह मैच

First published: 17 April 2019, 12:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी