Home » आईपीएल » IPL 2018: 25 Lakh per ball cost for live Streaming in IPL Star India buy rights of live Streaming by BCCI
 

IPL की एक गेंद पर 25 लाख रुपये होते हैं खर्च, सरकार हो रही है मालमाल

विकाश गौड़ | Updated on: 7 April 2018, 17:23 IST

देश की ही नहीं बल्कि विदेशों की भी सबसे बड़ी T20 क्रिकेट लीग सात अप्रैल से शुरू होने जा रही है. साल 2008 से शुरू हुई इस लीग को दस साल पूरे हो चुके हैं और इस साल यह IPL का 11वां सीजन है. इन बीते 11 सालों में आईपीएल ने जहां क्रिकेट के सैकड़ों खिलाड़ियों को मालामाल किया है तो वहीं भारत सरकार को भी इससे हजारों करोड़ों का फायदा हुआ है.

दरअसल, IPL देश की इकॉनमी के लिए एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है. IPL से होने वाली मोटी कमाई का अंदाजा सिर्फ इस बात से लगाया जा सकता है कि साल 2008 से अब तक बीसीसीआई यानी भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने कुल 3,500 करोड़ रुपये का टैक्स जमा किया है, जो भारत सरकार के खजाने में गया है.

 

बीसीसीआई का एक रिपोर्ट के मुताबिक साल 2017 में आईपीएल के डिजिटल और टेलीविजन प्रसारण के राइट्स स्टार इंडिया ने खरीदे थे. इसके लिए स्टार इंडिया ने 16,437.50 करोड़ रुपये खर्च किए थे. साथ ही इस रकम में IPL के ये राइट्स पांच साल के लिए खरीदे स्टार इंडिया के पास हैं.

इन आंकड़ों के बाद एक दिलचस्प बात सामने आई है जो बेहद हैरान करने वाली है. दरअसल, IPL की एक गेंद दिखाने के लिए स्टार इंडिया ने 25 लाख रुपये खर्च किए हैं. इन आंकड़ों को एक ओवर के हिसाब से देखा जाए तो इसके लिए स्टार समूह ने 1.5 करोड़ रुपये में बीसीसीआई से राइट्स खरीदे हैं.

 

लिहाजा यह आंकड़ा एक मैच के लिए 60 करोड़ रुपये बैठता है, जो वाकई हैरान करने वाला है. वहीं, अगर ख़बरों की मानें तो हाल ही में स्टार इंडिया ने आईपीएल के 11वें सीजन के लिए 500 करोड़ रुपये की ऐड इनवेंटरी बेची थी. इसी के जरिए स्टार इंडिया मोटी कमाई की भरपाई करने वाली है.

ये भी पढ़ेंः 11 साल में कैसे IPL देश की इकॉनमी का सबसे अहम हिस्सा बन गया?

बता दें कि IPL के डिजिटल राइट्स पाने के लिए फेसबुक, अमेजॉन, ट्विटर, याहू, रिलायंस जियो, स्टार इंडिया, सोनी पिक्चर्स, डिस्कवरी, स्काई, ब्रिटिश टेलीकॉम और ईएसपीएन डिजिटल मीडिया जैसी कंपनियां ने हिस्सा लिया था लेकिनन इसमें सबसे ज्यादा स्टार इंडिया ने बोली लगाई थी और IPL के डिजिटल राइट्स पाए थे.

First published: 7 April 2018, 17:23 IST
 
अगली कहानी